कर्फ्यू के बीच गूंजी शहनाई

गौड़ ब्राह्मण समाज के 15 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में

By: Rajendra Jain

Updated: 22 Apr 2021, 02:27 PM IST

लालसोट. गौड़ सनाढ्य ब्राह्मण समात समिति के तत्वावधान में सामूहिक विवाह सम्मेलन में कोरोना गाइड लाइन के तहत 15 जोड़े परिणयत्र सूत्र बंधन में बंधे। इस मौके पर समाज के प्रबुद्ध जनों की मौजूदगी में सभी नवविवाहित जोड़ों ने अग्नि की साक्षी में सात फेरे लेकर अपने वैवाहिक जीवन में कदम रखा। पाणिग्रहण सम्मेलन के कार्यक्रम के अंत में जब विदाई की बेला आई तो, वहां मौजूद सभी लोगों की आखें भी नम हो गई।
आचार्य पं. सत्यनारायण शर्मा कोलीवाड़ा वाले व पं. मुकेश शर्मा ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच तेल व मंडप स्थापना की रस्मों को पूरा कराया। इसके बाद गाजे बाजे के साथ निकासी हुई।
आयोजन स्थल पर पहुंचने पर समाज के लोगों ने सभी दूल्हों व बारातियों का पुष्प वर्षा के साथ स्वागत किया। जिसके बाद तोरण व वरमाला की रस्मों को पूरा किया गया। सम्मेलन समिति के अध्यक्ष जगदीश प्रसाद तिवाड़ी व अन्य पदाधिकारियों ने अतिथियों व भामाशाहों का सम्मान किया और समाज का आगामी सम्मेलन अगले साल 2022 में बसंत पंचमी पर आयोजित करने की घोषणा भी की।
अध्यक्ष जगदीश तिवाड़ी, महामंत्री ओमप्रकाश सूरतपुरा, संजय उपाध्याय, महेश चांदपुर, ओमप्रकाश झालानी, रवि हाड़ा, राधामोहन मिश्र, सुरेश सेडूलाई, मदन हट्टिका, कैलाशप्रसाद जोशी, राजेंद्र डोब, जिला अध्यक्ष वैद्य लक्ष्मीकांत, महामंत्री, कमलेश भोजपूरा, बाबूलाल पंडा, कैलाश भारद्वाज, बाबूलाल जैमन, गोविंद बगड़ी, प्रकाश गोलची, कैलाश गोबरसा एवं रमेेश पंडा आदि मौजूद रहे। जोड़ों को बढ़ चढ़कर उपहार भी दिए।

दो मैरिज गार्डन पर मारा छापा
लालसोट. शहर में शादी समारोह के दौरान निर्धारित संख्या से अधिक भीड़ एकत्र किए जाने को लेकर उपखंड प्रशासन बुधवार देर रात्रि को भी सक्रिय नजर आया । एसडीएम गोपाल जांगिड़ ने शहर के दो मैरिज गार्डन पर छापा मारा तो निर्धारित संख्या से अधिक लोग मौजूद मिले। इस पर दोनों गार्डन पर शादी समारोह के आयोजकों से पांच-पांच हजार का जुर्माना भी वसूला।

विधवा पुनर्विवाह की राजपूत सभा दौसा ने शुरू की पहल
दौसा. श्रीभवानी राजपूत छात्रावास दौसा में विधवा पुनर्विवाह की पहल की गई। जिलाध्यक्ष सुजीत सिंह चावण्डेडा ने बताया कि सवाईपुरा निवासी देवीसिंह बांकावत के पुत्र रणवीर सिंह का लगभग 3 वर्ष पूर्व आकस्मिक निधन हो गया था। इसके बाद 22 वर्षीय आरती कंवर अपने 3 वर्ष के पुत्र के साथ रह
रही थी।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned