कोरोना एडवाइजरी की पालना पर दिया जोर

अधिकारियों व दुकानदारों की बैठक

By: Rajendra Jain

Updated: 22 Oct 2020, 11:34 PM IST

दौसा. लालसोट पुलिस थाना परिसर में गुरुवार सुबह प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों और व्यापार महासंघ के पदाधिकारियों व दुकानदारों की बैठक हुई। इसमें अधिकारियों ने दीपावली के मौके पर बाजारों में कोरोना एडवाइजरी की पालना के लिए सभी दुकानदारों से सहयोग की अपील की।
एसडीएम गोपाल जांगिड़ ने कहा कि सभी दुकानदार निर्धारित समय सायं छह बजे बाद अपनी दुकानें नहीं खोलें, अन्यथा प्रशासन द्वारा नियमानुसार कार्रवाइ की जाएगी। उन्होंने कहा कि अगले माह दिवाली है, इसके चलते बाजारों में भीड़ आना भी शुरू हो गई, ऐसे में सभी दुकानदार अपनी जिम्मेदारी को निभाते हुए कोरोना एडवाइजरी का पालन करें।
बिना मास्क पहने ग्राहकों को दुकान में प्रवेश नहीं दें और सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखें। जिसके बाद बैठक में व्यापार महासंघ महासचिव अतुल बैनाड़ा ने कहा कि सभी दुकानदार नियत समय पर ही अपनी दुकानें बंद कर रहे हैं और कोरोना एडवाइजरी की भी पालना कर रहे हंै, लेकिन बाजारों में अवैध रूप से जमा अतिक्रमण शहर की सबसे बड़ी समस्या है, इन अतिक्रमणों द्वारा ही बाजारों में अव्यवस्था फैलाई जा रही है, बाजारों में जमा ठेले व अन्य अतिक्रमण करने वालों ने ही पूरी व्यवस्था को खराब कर रखा है। ये अतिक्रमी व्यापार महासंघ के कंट्रोल में नही है, उन्होंने कहा कि बाजारों से अनाधिकृत कब्जों को हटाया जाए। हरिमोहन जंगम व पूर्व पार्षद भगवान जोशी ने कहा कि नगर पालिका प्रशासन की अनदेखी से शहर के सभी रोड पर अतिक्रमण हो रहे है, जिससे बाजारों में हालात खराब हैं। बैठक में एसएचओ महावीर प्रसाद, व्यापार महासंघ अध्यक्ष पुरुषोत्तम जोशी, गोंविंद जसवानी, अरविंद आर्य, ओमप्रकाश रावत, विनोद गोयल, महेश जांगिड़ समेत कई जने मौजूद रहे।

पीडि़त परिवार को दी आर्थिक सहायता सिकंदरा . क्षेत्र के मोरोली गांव में दो सप्ताह पूर्व सर्पदंश से हुई युवक की मौत के बाद पीडि़त परिवार को अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के जिला उपाध्यक्ष रामेश्वर बनियाना व सरपंच पति समुंदर सिंह गुर्जर के नेतृत्व में आर्थिक सहायता
सौंपी है।
जानकारी के अनुसार विश्राम (35) पुत्र गम्मन लाल गुर्जर की आठ अक्टूबर को सर्पदंश से मौत हो गई थी। इसके बाद उसकी पत्नी पिंकी सहित तीन नन्हे बालको के सामने पालन पोषण का संकट खड़ा हो गया। परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए लोगों ने रुपए एकत्र कर पीडि़त परिवार को दो लाख 63 हजार 247 रुपए की राशि सौंपी है। सहायता राशि मिलने के बाद पीडि़त परिवार के लोगों की आंखें नम हो गई। राशि से पीडि़त परिवार के लोगों को संबल मिलेगा। राणोली सरपंच लखनदेवी गुर्जर, नरेंद्र सिंह, मक्खनलाल डोई, अध्यापक गिर्राज प्रसाद, बाबूलाल, प्रहलाद गुर्जर, मूलचंद, रामकेश आदि मौजूद थे।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned