ग्राहकों की भरमार,चोरी-छिपे व्यापार

कई दुकानदारों ने घरों से चलाई दुकानें

By: Rajendra Jain

Published: 21 Apr 2021, 09:25 AM IST

दौसा. 'अरे भाई जल्दी सामान खरीदो, नहीं तो कोई पुलिसवाला या फिर नगरपरिषद वाला आ जाएगा और दुकान सीज हो जाएगीÓ। यह बात जिला मुख्यालय सहित प्रत्येक छोटे-बड़े कस्बों के हर बाजार में कपड़े, इलेक्ट्रॉनिक, फर्नीचर व शादी से जुड़े हर सामान की दुकानों के आगे सुनने को मिल रही थी। जनअनुशासन पखवाड़े की गाइड लाइन में परचूनी, मेडिकल एवं अन्य आवश्यक सेवाओं की दुकानों के अलावा सभी दुकानें बंद करने का आदेश हैं। इस वक्त सावों की भरमार है। ऐसे में बाजार में ग्राहकों की भरमार है। जबकि सरकार ने कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए अनुशासन पखवाड़े के रूप में लॉकडाउन कर रखा है। ऐसे में चोरी-छिपे व्यापार चल रहा है।
जिला मुख्यालय पर पत्रिका टीम ने शहर के नया कटला, मण्डी रोड, खादी भण्डार रोड, आगरा रोड आदि मुख्य बाजारों की स्थिति का जायजा लिया तो दुकानों के आगे लगे शटरों के तो ताले लटके मिले, लेकिन उनके आगे दुकान मालिक एवं ग्राहकों की आवाजाही देखी गई। मानगंज में दुकानों के आगे कोई दूल्हे के लिए कपड़े खरीदने वाला खड़ा था तो कोई दुल्हन का बेस लेने आया था। पुलिस एवं नगरपरिषद की सख्ती के कारण दुकान मालिक शटर पूरी तरह तो नहीं खोल रहे थे, लेकिन कई जगह दुकानों के शटर आधे खुले थे तो कहीं पर ताला नहीं लगा था।
दुकानदार चुपके से दुकानों में ग्राहकों को लेकर सामान बेचते रहे। वहीं सुबह के समय भी कई लोगों ने व्यापार कर लिया।

ग्राहक बुलाने वाले के लिए भी अलग आदमी
बाजारों में दुकानदारों ने दुकानों के आगे शटर नीचे तक डाउन कर रखे थे। ऐसे में उनके यहां आने वाले ग्राहकों को दुकान खुली है या नहीं पता कैसे चले। इसके लिए जिन दुकानदारों के पास मुनीम है, उन्होंने तो मुनीमों को ग्राहक बुलाने के लिए रख रखा था और जिनके पास मुनीम नहीं थे उन्होंने अपने ही परिजनों को बाहर खड़ा कर रखा था। नया कटला में टीम ने तीन -चार दुकानदारों से बात की तो उन्होंने बताया कि प्रशासन से अनुमति भी मांगी थी, लेकिन प्रशासन नहीं माना। ऐसे में उनके सामने इस रास्ते के अलावा कोई और चारा नहीं है।

दुकानों के ऊपर घर

जिला मुख्यालय पर जिन दुकानदारों के पास दुकानों के ऊपर या फिर पीछे अलग से भवन है, वे दुकानदार जमकर चांदी कूट रहे हैं। ऐसे अधिकांश दुकानमालिकों ने जरूरी सामान को घर में ही रख लिया है। वे दुकानदार ग्राहक अपने माल को पीछे या फिर ऊपर से ही सामान बेच रहे थे।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned