शहर में लॉकडाउन, गांवों में खुली अवहेलना

कोतवाली पुलिस ने निकाला फ्लैगमाच

By: Rajendra Jain

Published: 28 May 2021, 02:24 PM IST

दौसा. कोरोना वायरस की चेन तोडऩे के लिए लागू लॉकडाउन की पालना को लेकर जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन सख्ती बरत रहा है, लेकिन लोग अवहेलना करने से नहीं चूक रहे हैं। जिला मुख्यालय पर कोतवाली थाना पुलिस ने लॉकडाउन की पालना के लिए दौसा पुलिस उपाधीक्षक डॉ. दीपक शर्मा एवं कोतवाली थाना प्रभारी लालसिंह के नेतृत्व में फ्लेगमार्च निकाला। जबकि ग्रामीण इलाकों में पुलिस की ढिलाई के कारण लोग अवहेलना कर रहे हैं।

शहर का यह था हाल
शहर में सुबह 11 बजे तक अनुमत दुकानें खुलने से मण्डी रोड, लालसोट रोड, संत सुन्दरदास मार्ग, गुप्तेश्वर रोड, घास मण्डी, पुराने शहर सहित कई जगह लोगों की भीड़ नजर आई। खासकर मण्डी रोड, सुंदरदास मार्ग व नया कटला व सब्जी मण्डी के आगे भारी भीड़ देखने को मिली। दुकानें बंद होने के बाद कोतवाली थाना पुलिस ने कोतवाली थाने से गांधी तिराहे लालसोट रोड, मण्डी रोड, नयाकटला, नागौरी पुलिया होते हुए मुस्लिम मोहल्लों में होकर सोमनाथ चौराहे तक पुलिस ने फ्लेग मार्च निकाला।
इधर शहर में गांधी तिराहे, पुलिस कंट्रोल रूम, सोमनाथ चौराहा, सैंथल मोड़ आदि प्वाइंटों पर पुलिस ने शहर में बिना काम आने वाले लोगों को रोक का शहर में आने का कारण पूछा जो संतोषजनक जवाब नहीं दे पा रहे थे उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही थी। फिर भी जो लोग नहीं मान रहे थे उनके पुलिस डण्डे भी फटकार रही थी।

ग्रामीण इलाकों हाल-बेहाल जिला
मुख्यालय पर तो पुलिस की सख्ती से फिर भी लोग लॉकडाउन की पालना कर रहे हंै, लेकिन ग्रामीण इलाकों के हालात खराब है। ग्रामीण इलाकों में स्थानीय थाना पुलिस के सक्रिय नहीं होने से सुबह से ही कस्बों में बाजार खुल जाते हैं। बाजारों में सुबह 11 बजे तक खासी भीड़ नजर आती है। हालांकि दुकानें तो 11 बजे बंद हो जाती है, लेकिन शाम को छह बजे वापस खुल जाती है। बाजारों में भीड़ को देखते हुए नहीं लगता है कि जिले में लॉकडाउन लग रहा है।

फ्लैग मार्च में खुला मिला क्लिनिक सील
लालसोट. प्रदेश में प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग के आला अधिकारियों के लाख दावों के बाद भी कोरोना संक्रमण के दौरान भी क्षेत्र में झोलाछाप लोगों की जान से खिलवाड़ करते बाज नहीं आ रहे हंै। कुछ ऐसा ही मामला शहर में एसडीएम गोपाल जांगिड़, डिप्टीएसी शंकरलाल मीना और थाना प्रभारी राजवीर सिंह राठौड़ की अगुवाई में पुलिस व पालिका जाप्ते के फ्लैग मार्च के दौरान मिला।
इस दौरान पोस्ट ऑफिस के पास एक क्लिनिक खुली मिली,जिसे देख कर एसडीएम ने सील करने के निर्देश दिए। इस दौरान जब एसएडीएम ने क्लिनिक संचालक से आवश्यक दस्तावेज के बारे में जानकारी ली, वह कुछ जानकारी नहीं दे सका, जिसके बाद उन्होंने और पुलिस कर्मियों को उक्त क्लिनिक संचालक को थाने भेजने के निर्देश दिए।
दूसरी ओर सुबह से ही लालसोट शहर के अधिकांश बाजारों में कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां उड़ती नजर आई और बाजारों में अधिकांश गैर अनुमत दुकानें भी खुली हुई नजर आई। बाद में जब एसडीएम की अगुवाई में अधिकारी व पुलिस कर्मी बाजारों में निकले तो हड़कंप मच गया। एसडीएम ने थाने के सामने ही खुली मिली तीन दुकानों को सील करने के निर्देश दिए।
इसके अलावा बस स्टैण्ड क्षेत्र में मोबाइल की दो दुकानें, बौली का बाजार में एक ज्वैलर्स और कोथून रोड़ पर मोबाइल की एक दुकान भी खुली मिली, जिन्हे मौके पर ही सील कर दिया गया। कुछ देर में बाजार सूने हो गए। कार्रवाई के दौरान नायब तहसीलदार भरोसचंद, पालिका के कनिष्ठ अभियंता सुरेश शर्मा और सीताराम सैनी समेत कई कार्मिक भी मौजूद थे।

Corona virus
Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned