भगवान देवनारायण की निकाली शोभायात्रा

धुनों पर नाचते चल रहे थे युवा, 135 प्रतिभाओं को सम्मानित किया

By: Rajendra Jain

Published: 21 Feb 2021, 08:14 AM IST

दौसा. जिला मुख्यालय पर शनिवार को देवनारायण भगवान की शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में झांकी के साथ मौजूद गुर्जर समाज के पदाधिकारी व डीजे के धुनों पर युवा नाचते चल रहे थे। जानकारी के अनुसार देवनारायण भगवान की शोभायात्रा में आगे - आगे रथ चल रहा था। पीछे जयकारे लगाते लोग चल रहे थे।
इधर गुर्जर छात्रावास एवं भगवान देवनारायण मंदिर में इस अवसर पर प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित किया गया। असमें 135 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में गुर्जर कर्मचारी अधिकारी कल्याण परिषद के प्रदेशाध्यक्ष आरके गुर्जर ने बताया कि आर्थिक दृष्टि से कमजोर विद्यार्थियों को गुर्जर कर्मचारी संस्था की ओर से शिक्षा की व्यवस्था की जाती है।
उन्होंने बताया कि कार्यक्रम में पांच होनहारों को 10-10 हजार रुपए के चेक वितरित किए गए। मुख्य अतिथि बांदीकुई विधायक जीआर खटाणा ने अपने उद्बोधन में कहा कि समाज को शिक्षा की ओर अग्रसर होना चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति को अपने बेटे- बेटियों की शिक्षा पर अधिक से अधिक खर्च करना चाहिए। संचालन जिलाध्यक्ष रामफूल भेड़ी ने किया। इस अवसर पर डॉ. कुलदीप सिंह, हंसराज, मानसिंह चेची, पवन गुर्जर, कुलदीप डोई, रामावतार चोधरी, कमल सिंह व शम्भूदयाल सहित कई लोग मौजूद थे।

लालसोट. राजस्थान गुर्जर महासभा के तत्वाधान में क्षेत्र के गुर्जर समाज की ओर से शहर में भगवान देवनारायण की शोभायात्रा गाजे बाजे के साथ निकाली गई। शोभायात्रा शहर से सटे चांदसेन गांव स्थित देवनारायण मंदिर से पूजा अर्चना के बाद रवाना हुई । जो शहर के विभिन्न मार्गो से गुजरती हुई वापस देवनारायण मंदिर पहुंची। इसमें बड़ी संख्या में समाज के महिला पुरुष व युवाओं ने भाग लिया। इस दौरान घुड़दौड़ व नृत्य भी पेश किए गए। यात्रा समापन के बाद समाज के अध्यक्ष मुकेश गुर्जर की अध्यक्षता में बैठक हुई।
इसमें मंदिर निर्माण एवं समाज सुधार पर चर्चा की गई। पूर्व अध्यक्ष सुवालाल कसाना, रामजीलाल डोई, कमल सोनंदा, प्यार सिंह बीड़, पुखराज शाहपुरा आदि मौजूद रहे।(नि.प्र.)

कालोता. भगवान देवनारायण के जन्मोत्सव पर कालोता में देवनारायण मंदिर से शोभायात्रा निकाली गई। संत बालकदास जी ने हरी झंडी दिखाकर शोभायात्रा को रवाना किया। जो कि कालोता, खोर्रा कला होते हुए वापिस शाम को श्रीदेवनारायण के मंदिर में पहुंची। जगह-जगह पुष्पवर्षा की गई। भगवान देवनारायण की झांकी सजाई गई। शाम को प्रसादी वितरण की गई। इस मौके पर रामप्रसाद डीलर, अनंतराम, दिनेश गुर्जर, सुरज्ञान, रणवीर, जुगल, कैलाश आदि मौजूद थे।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned