script हरदा में हादसा, देवास से पहुंची सहायता | Accident in Harda, help reached from Dewas | Patrika News

हरदा में हादसा, देवास से पहुंची सहायता

locationदेवासPublished: Feb 07, 2024 01:16:35 am

Submitted by:

rishi jaiswal

जिले से 6 चिकित्सकों टीम और 10 एंबुलेंस हरदा भेजी, 2 फायर ब्रिगेड व 15 पानी के टैंकर भी पहुंचाए

हरदा में हादसा, देवास से पहुंची सहायता
हरदा में हादसा, देवास से पहुंची सहायता
देवास/खातेगांव/कन्नौद. हरदा में एक पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट की घटना के बाद जिले से भी सहायता के लिए टीमें भेजी गई। वहीं खातेगांव अस्पताल में आवश्यक इंतजाम किए गए। घटना की जानकारी मिलते ही कलेक्टर ऋषव गुप्ता ने जिले से खातेगांव व कन्नौद अस्पताल से 6 चिकित्सकों की टीम व 10 एंबुलेंस हरदा के लिए तत्काल रवाना करवाई। चिकित्सकों की टीम द्वारा जिला चिकित्सालय हरदा में अपनी सेवाएं दी जा रही हैं। वहीं जिले से हरदा के लिए 2 फायर ब्रिगेड, 15 पानी के टैंकर, 2 पोकलेन और 2 जेसीबी भी भेजी गई। नेशनल हाईवे का आपदा कर्मचारी अमला भी घटना के बाद हरदा भेजा गया। हरदा जाने वाले चिकित्सकों में कन्नौद से डॉ. राजकुमार बारवाल, डॉ. विशाल तिवारी, डॉ. धीरज बारवाल, खातेगांव से डॉ. शुभम तिवारी, डॉ. आनंद कर्पे आदि शामिल हैं। वहीं खातेगांव अस्पताल के स्टाफ को भी अलर्ट मोड पर रखा गया।
पुलिस भी रही सक्रिय

उल्लेखनीय है कि घायलों को इंदौर के अस्पताल भी भेजा गया। ऐसे में नेमावर, खातेगांव, कन्नौद, चापड़ा, डबलचौकी क्षेत्र में इंदौर-बैतूल हाइवे पर पुलिस की टीम भी सक्रिय रही। जगह-जगह पॉइंट लगाकर पुलिसकर्मी तैनात किए गए ताकि एम्बुलेंस को आसानी से रास्ता मिल सके व घायल समय पर पहुंच सकें।
पटाखों की जांच के लिए दल गठित

जिले में आतिशबाजी के क्रय-विक्रय एवं भण्डारण के दौरान अनुज्ञप्तिधारियों द्वारा सुनिश्चित किए जाने वाले सुरक्षा मापदण्ड, अवैध विक्रेताओं के विरूद्ध कार्यवाही, अनुज्ञप्ति की शर्तो का पालन करवाने तथा आमजन की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ऋषव गुप्ता ने जांच दल का गठन किया है। गठित जांच दलों को तीन दिन में प्रतिवेदन भेजने के लिए कहा है। जांच दलों में सभी एसडीएम, तहसीलदार, संबंधित थाना प्रभारी को नियुक्त किया गया है।
शहर में की जांच

उधर कलेक्टर के निर्देश के बाद एसडीएम बिहारीसिंह, सीएसपी दिशेष अग्रवाल के नेतृत्व में टीम ने शहर के पीठा रोड सहित अन्य पटाखा दुकानों पर पहुंचकर जांच की। इस दौरान दो जगहों से पटाखों के सेंपल जब्त किए गए। वहीं एक दुकान बंद रही। तीन बत्ती के समीप एक दुकान पूरी तरह से खाली मिलने पर टीआई व तहसीलदार ने दुकान संचालक से सवाल जवाब किए। इस पर दुकानदार ने कहा कि उसके पास केवल पिचकारी है। इस पर अफसरों ने कहा कि हमारे पास वीडियो हैं हम उसे पेश करेंगे।

ट्रेंडिंग वीडियो