महज 500 रुपए खर्च कर शादी के बंधन में बंधे सिटी मजिस्ट्रेट और आर्मी अफसर, पेश की मिसाल

धार सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी और मेजर अनिकेत चतुर्वेदी ने सादगी से शादी कर दिया फिजूलखर्ची रोकने का संदेश...

By: Shailendra Sharma

Published: 13 Jul 2021, 03:53 PM IST

धार. धार जिले में दो अधिकारियों ने सादगी से शदी कर मिसाल पेश की। महज 500 रुपए के खर्च में हुई इस शादी की शहर के साथ ही प्रदेशभर में चर्चा हो रही है और लोग इसकी तारीफ कर रहे हैं। सादगी के साथ फिजूलखर्ची से बचते हुए धार में पदस्थ सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी ने भारतीय सेना में पदस्थ मेजर अनिकेत चतुर्वेदी का हाथ थामा और सात जन्मों के बंधन में बंध गईं। बिना बैंड बाजा और बारात के हुई इस शादी में महज 500 रुपए का खर्च आया और वो भी सिर्फ फूल माला और मिठाई के तौर पर।

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में तहसीलदार ने रुकवाई थी किसान की बेटी की शादी, अब खुद के खर्च पर कराए सात फेरे

dhar_marriage_2.jpg

बिना बैंड बाजा और बारात के थामा एक दूजे का हाथ
सादगी के साथ विवाह के बंधन में बंधने वाले दंपति भोपाल के रहने वाले हैं। दोनों ही शादी में होने वाली फिजूलखर्ची के बिल्कुल खिलाफ हैं और इसलिए उन्होंने सादगी के साथ विवाह कर समाज के सामने एक मिसाल पेश की है। दोनों सब रजिस्ट्रार कार्यालय में शादी की और फिर भगवान धारनाथ के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लिया। सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी ने बताया कि शादी में फिजूलखर्ची से सिर्फ लड़की के परिवार पर ही बोझ नहीं पड़ता बल्कि पैसों का भी दुरुपयोग होता है। इसलिए उन्होंने समाज को एक संदेश देने का फैसला लिया था जिसमें पति अनिकेत चतुर्वेदी का उन्हें पूरा सहयोग मिला।

ये भी पढ़ें- शादी के मंडप में पहुंची कथित प्रेमिका, देखें हाईवोल्टेज ड्रामे का वीडियो

dhar_marriage_3.jpg

कोरोना के कारण दो साल से टल रही थी शादी
सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी ने बताया कि कोरोना के चलते शादी बीते 2 साल से टल रही थी। वो समाज को संदेश देना चाहती थीं और इसलिए दोनों परिवारों की सहमति के साथ उन्होंने बिना धूम धड़ाके और बारात व फिजूलखर्ची से बचते हुए कोर्ट मैरिज की। सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी ने लोगों से भी अपील की है कि वो भी शादियों में होने वाली फिजूलखर्ची को रोकें। उन्होंने आगे कहा कि कोरोना में हमने बहुत से लोगों को खोया है। अभी भी संक्रमण पूरी तरह से गया नहीं है, इसलिए जरुरी है लोग कोरोना गाइडलाइंस का पालन करें और शादियों में फिजूलखर्ची न करें। इस शादी में दोनों अधिकारियों के परिजनों के अलावा कलेक्टर आलोक कुमार सिंह, एसडीएम सलोनी सिड़ाना सहित अन्य स्टाफ भी मौजूद रहा।

देखें वीडियो- सोना..बाबू कर पुकारती रही प्रेमिका और प्रेमी मंडप में लेता रहा सात फेरे

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned