script जानिए क्यों होता है पूजा में फूल का प्रयोग, क्या है महत्व? | importance of flower in puja | Patrika News

जानिए क्यों होता है पूजा में फूल का प्रयोग, क्या है महत्व?

locationभोपालPublished: Dec 07, 2019 12:58:33 pm

Submitted by:

Devendra Kashyap

फूल हमारी श्रद्धा और भावना का प्रतीक है।

importance_of_flower_in_puja.jpg
हिंदू धर्म में पूजा-पाठ को बहुत महत्व दिया जाता है। वहीं पूजा साम्रगी की बात करें तो उसमें फूलों का भी बड़ा महत्व है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, फूलों का प्रयोग पूजा और उपासना के लिए किया जाता है। मान्यता है कि पूजा के दौरान फूलों का प्रयोग करने से ईश्वर की कृपा बहुत जल्द बरसती है।
ये भी पढ़ें- शनिदेव के 5 सबसे बड़े धाम, एक बार जरूर जाएं


कहा जाता है कि फूल हमारी श्रद्धा और भावना का प्रतीक है। इसके अलावा फूल हमारी मानसिक स्थिति के बारे में भी बताते हैं। माना जाता है कि फूलों के अलग-अलग रंग और सुगंध अलग तरह के प्रभाव पैदा करते हैं। कहा जाता है कि पूजा में सही रंग के फूल सही तरीके से अर्पित किया जाए तो सभी तरह के समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। ऐसे में ये जानना जरूरी है कि पूजा में फूलों का क्या महत्व होता है...

मान्यता है कि भगवान विष्णु को अगर नियमित रूप से पीले गेंदे के फूलों की माला चढ़ाया जाए तो संतान संबंधी समस्याओं से मुक्ति मिल सकती है।

अगर लक्ष्मी जी को हर दिन गुलाब के फूल अर्पित किये जाए तो आर्थिक स्थिति अच्छी हो सकती है।

मान्यता है कि अगर किसी को गलाब के फूल दिया जाए तो रिश्ते मजबूत होते हैं। इसके साथ ही प्रेम और वैवाहिक जीवन सुखद हो जाता है।

किसी भी एकादशी के दिन भगवान कृष्ण को कमल के दो फूल अर्पित करने से संतान की प्राप्ति होती है।

मान्यता है कि अगर 27 दिन तक, हर दिन कमल का एक फूल माता लक्ष्मी को अर्पित किया जाए तो अखंड राज्य सुख की प्राप्ति होती है।

मान्यता के अनुसार, अगर हर दिन देवी को गुड़हल के फूल अर्पित किया जाए तो शत्रु और विरोधियों से राहत मिलती है। इसके अलावा गुड़हल का फूल डालकर भगवान सूर्य को जल अर्पित करने से नाम यश और मिलता है।

ट्रेंडिंग वीडियो