Sawan Somwar 2021: सावन के आखिरी सोमवार 16 अगस्त को क्या है खास और जानें इस दिन का शुभ व अशुभ समय

Sawan Somwar 2021: सावन का महीना अब धीरे-धीरे समापन की तरफ

By: दीपेश तिवारी

Published: 15 Aug 2021, 10:42 PM IST

Sawan Somwar 2021: साल 2021 में जुलाई 25 से शुरु हुआ श्रावण यानी सावन मास अब समाप्ति की ओर है। चातुर्मास का सावन का यह माह भगवान शिव का अत्यंत प्रिय माह माना जाता है। ऐसे में इस माह में आने वाले सोमवार का अपना विशेष महत्व होता है।

ऐसे में सावन 2021 माह में चार सोमवार का योग है, जिनमें से पहला सोमवार सावन के कृष्ण पक्ष में 26 जुलाई को पड़ा था, वहीं अब तक सावन के तीन सोमवार के निकल जाने के बाद अब 16 अगस्त को सावन 2021 का चौथा व आखिरी सोमवार है।

life management lessons from lord shiva sutra

वहीं सावन के शुक्ल पक्ष का 16 अगस्त को ये दूसरा सोमवार होगा। ऐसे में इस दिन देश भर के विभिन्न शिवालयों में भक्तों के द्वारा भगवान शिव की विशेष पूजा व अर्चना की जाएगी। माना जाता है कि सावन के सोमवार को भगवान शिव को प्रसन्न करना सबसे आसान होता है। ऐसे में वे इस दिन अपने भक्तों पर अपनी विशेष कृपा करते हुए आशीर्वाद प्रदान करते हैं।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार हिंदुओं में सावन को पूजा आदि कार्यों के लिए विशेष माह माना जाता है, वहीं ये भगवान शिव का प्रिय माह है। ऐसे में भगवान शिव के साप्ताहिक दिन सोमवार का इस दौर खास महत्व रहता है।

Must Read- सावन का चौथा सोमवार, जानें योग, शुभ समय और पूजा विधि

Mahakal Mandir Ujjain Mahakal Temple Ujjain Entry Sawan Somwar
IMAGE CREDIT: patrika

ऐसे समझें सावन सोमवार को
पंडित शर्मा के मुताबिक हिंदू पंचांग के अनुसार 16 अगस्त 2021 का सोमवार सावन 2021 का अंतिम सोमवार होने के साथ ही इस दिन सुबह 07:45 बजे तक सावन शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि भी रहेगी।

दरअसल सावन के आखिरी सोमवार का खास महत्व माना जाता है, मान्यता के अनुसार इस दिन व्रत रखते हुए भगवान शिव-शंकर की विधि पूर्वक पूजा करने से उपासक की हर मनोकामना पूर्ण होती हैं। वहीं इस बार इस दिन यानि सावन के अंतिम सोमवार के दिन वृश्चिक राशि में चंद्रमा विराजमान रहेगा, जबकि नक्षत्र अनुराधा नक्षत्र रहेगा।

शुभ व अशुभ समय
16 अगस्त 2021, सोमवार को जहां राहु काल पंचांग के अनुसार सुबह 07:29:12 बजे से सुबह 09:07:13 बजे तक राहु काल रहेगा। वहीं इस दिन अभिजीत मुहूर्त 11:58 AM से 12:50 PM तक रहेगा। वहीं अमृत काल मुहूर्त 05:15 PM से 06:45 PM तक रहेगा।

Must Read- सावन सोमवार के दिन सुबह नहीं पाएं हैं शिव पूजा, तो शाम को ये करें

Lord Shiv puja day is Monday

पंडित शर्मा के अनुसार हिंदू पंचांग के मुताबिक सावन का महीना श्रावणी पूर्णिमा यानि रविवार, 22 अगस्त 2021 को समाप्त हो जाएगा। जिसके बाद 23 अगस्त 2021 से हिंदू पंचांग का छठवा महीना भाद्रपद मास शुरु हो जाएगा, जिसे भादो भी कहा जाता है। वहीं इससे पहले यानि 22 अगस्त को श्रावणी पूर्णिमा के दिन धनिष्ठा नक्षत्र है, वहीं इस दिन शोभन योग भी बना हुआ है।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned