Sawan Somvar: यदि सुबह नहीं कर सके हैं शिव पूजा, तो शाम को करें ये उपाय

सावन सोमवार: शिव पूजा का विशेष दिन...

सावन 2021 का पहला सोमवार आज दिनांक 26 जुलाई 2021 को है। ऐसे में जहां भक्त भगवान शिव की आराधना में लीन रहते हैं। वहीं कई बार समय की कमी या व्यस्तता के चलते सोमवार को सुबह कुछ भक्त शिव पूजन नहीं कर सके।

ऐसी स्थिति के संबंध में जानकारों का कहना है कि यदि आप सावन सोमवार के दिन सुबह पूजा नहीं कर सके हैं, तो भी आप कुछ अन्य उपायों के माध्यम से भगवान शिव का पूरा आशीर्वाद पा सकते हैं।

पंडित एके शुक्ला के अनुसार यदि आज आप समय की कमी के कारण सुबह भगवान शंकर की पूजा नहीं कर पाए हों तो शाम के समय भी मन में शुद्धता रखते हुए स्नान के पश्चात मन में भगवान शंकर के प्रति विश्वास और श्रद्धा रखते हुए भगवान शंकर की पूजा को कर सकते हैं।

Must Read- Mangla Gauri Vrat 2021: इस सावन चार दिन हैं माता पावर्ती की पूजा के लिए अति विशेष, जानें पूजा विधि, सामग्री और कब क्या करें

mangla gauri vrat

इसके तहत आप शिवलिंग में बैल पत्र, धतुरा आदि चढ़ाकर शिव के पंचाक्षरी मंत्र ' नम: शिवाय ओम नम: शिवाय ' का दो माला से पांच माला तक जप कर सकते हैं।

: आप शिव चालीसा का पाठ कर सकते हैं। साथ ही रुद्राभिषेक भी किया जा सकता है।

: यदि आप शाम के समय शिव साधना करते है तो पूजा के समय आपका मुंख पश्चिम दिशा की ओर रखें।

: वहीं यदि आप भगवान शिव की उपासना रात्रि में करते हैं तो अपना मुंह उत्तर दिशा की ओर रखें।

सावन में रात्रि के समय जमीन पर सोना चाहिए।

वहीं कुंवारी कन्याओं को वर प्राप्ति के लिए या विवाहित जीवन में सुख सौभाग्य की प्राप्ति के लिए महिलाओं को सावन के प्रथम सोमवार से शुरु करके कुल नौ या सोलह सोमवार इस व्रत का पालन करना चाहिए। नौवें या सोलहवें सोमवार को व्रत का उद्यापन करना चाहिए। अगर नौ या सोलह सोमवार व्रत करना संभव ना हों, तो केवल सावन के चार सोमवार भी व्रत किए जा सकते हैं।

Must Read- 27 जुलाई 2021 को पहला मंगला गौरी व्रत, जानें पौराणिक कथा

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned