शनिवार : जप लें इनमें से कोई भी एक चमत्कारी हनुमान मंत्र, जो मांगेंगे वही मिलेगा

हर मनोकामना पूरी करेंगे हनुमान जी के यह चमत्कारी मंत्र

श्री हनुमानजी जल्द ही प्रसन्न होने वाले देवताओं में से एक है, जो भी इनकी शरण में आता है, उनके सभी कष्टों को ये दूर कर देते हैं। अगर आप भी किसी समस्या से घिरे हुए है तो शनिवार के दिन सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त से पहले तक, श्री हनुमान जी के इन चमत्कारी और सिद्ध मंत्र में से किसी भी एक का श्रद्धापूर्वक विधि विधान पूर्वक पूजा कर इतनी बार जप कर लें । हनुमान जी आपकी सभी समस्याओं को हमेशा के लिए खत्म कर देंगे।

 

मर्यादा पुरषोत्तम भगवान श्रीराम के अनन्य प्रिय भक्त, भक्त शिरोमणी श्री बजरंग बली महाराज आठ चिरंजीवियों में से एक है, जो अनंत काल से अपने भक्तों के आस पास ही रहते है और उनके शुभ कर्मों से प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामनाओं को पूर्ण भी करते हैं।

शनिवार के दिन इनमें से किसी भी एक चमत्कारी सिद्ध मंत्र को जपने से हर तरह की मनोकामा पूरी हो सकती है।

 

ये भी पढ़े- अपने घर पर शनि देव का शनिवार को अभिषेक करने से तुरंत होती है मनोकामना पूरी

 

1- अगर किसी को बार बार भय या डर लगता है तो शनिवार के दिन सुबह हनुमान मंदिर में जाकर ग्यारह सौ बार नीचे दिये मंत्र रुद्राक्ष की माला से जप करें।
मंत्र
।। ॐ हं हनुमंते नम: ।।

2- अगर कोई भूत प्रेत बाधा से पीड़ित हो तो उस पीड़ित व्यक्ति को हनुमान मंदिर में ले जाकर श्री बजरंग बली के गदा एवं पैर के सिंदूर का टीका लगाने ले तुरंत ही लाभ होगा। उसके बाद इस मंत्र का 108 बार जप कर एक गिलास पानी को अभिमंत्रित करने के बाद वह पानी भूत प्रेत बाधा से पीड़ित व्यक्ति के उपर थोड़ा सा छिड़कर बाली पूरा पानी पिला दें।

मंत्र
।। ॐ हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल: । अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते ।।
।। ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट् ।।

 

3- अपनी विशेष मनोकामना पूर्ति के लिए इस मंत्र का हर शनिवार 108 बार जप करें ।

मंत्र
।। ॐ महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते । हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये ।।

 

गायत्री मंत्र के अद्भूत चमत्कार- हर रोज इतनी बार जप या उच्चारण से मनोकामना पूरी करने के साथ रक्षा भी करता है यह महामंत्र

 

4- शत्रुओं और रोगों पर विजय प्राप्ति के लिए शनिवार के दिन इस मंत्र का 108 बार का जप करें ।

मंत्र
।। ॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा ।।

 

5- समस्त संकटों से मुक्ति के लिए शनिवार के दिन सुबह 4 से 6 बजे के बीच किसी प्राचीन हनुमान मंदिर में जाकर लाल ऊनी आसन पर बैठकर इस मंत्र का 1100 बार जप करने के बाद 7 बार श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें ।

मंत्र
।। ॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा ।।

 

धन प्राप्ति : लक्ष्मी पुरुषार्थी, उद्योगी पुरुष-सिंहों को ही प्राप्त होती है- डॉ. प्रणव पण्डंया

*************

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned