coronavirus: इस समय धूप सेंकेंगे तो नहीं होगा कोरोना वायरस का खतरा, जानें इसके बारे में

लोगों को भीड़भाड़ से बचना चाहिए और कोई काम करने से पहले हाथों की सफाई करनी चाहिए, साथ ही छिंकते समय लोगों से करीब एक मीटर की दूरी बनानी चाहिए

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने गुरुवार को स्पष्ट किया कि घातक कोरोनावायरस के प्रकोप का संचार भारत में अभी स्थानीय (लोकल) स्तर पर नहीं हुआ है। कोरोनावायरस के लोकल ट्रांसमीशन से उनका अभिप्राय कम्युनिटी ट्रांसमिशन है। उन्होंने कहा कि देश में कोरोनावायरस के लोकल ट्रांसमीशन की अब तक कोई रिपोर्ट नहीं आई है। उन्होंने लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दी।

चौबे ने संसद परिसर में कहा कि भारत में कोरोनावायरस के लोकल ट्रांसमिशन की कोई रिपोर्ट नहीं है, लेकिन इसकी संभावना है। बीमारी भारत में उन लोगों से आई है जो देश के बाहर से आए हैं। इसलिए, हमें जागरूक व सतर्क बने रहने की आवश्यकता है। केंद्रीय मंत्री के बयान से पहले भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने भी कहा था कि देश में कोरोनावायरस का प्रसार अभी दूसरे चरण में है और कम्युनिटी स्तर पर अभी इसका संचार नहीं हुआ है।

अश्विनी चौबे ने लोगों को दिन में 11 बजे से लेकर 12 बजे तक धूप सेंकने की सलाह दी और कहा कि धूप विटामिन-डी का स्रोत है इसलिए इससे न सिर्फ प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी, बल्कि वायरस को नष्ट करने में भी मदद मिलेगी।

चौबे ने कहा कि सरकार नई एडवायजरी जारी करती रही हैं और बीमारी की रोकथाम के लिए सभी जरूरी कदम उठाती रही है। उन्होंने कहा कि लोगों को भीड़भाड़ से बचना चाहिए और कोई काम करने से पहले हाथों की सफाई करनी चाहिए, साथ ही छिंकते समय लोगों से करीब एक मीटर की दूरी बनानी चाहिए

चौबे ने अपने ट्विटर एवं फेसबुक अकाउंट पर हाथ धोते हुए एक वीडियो शेयर करके लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर एक संदेश पोस्ट करते हुए लोगों से अपील करते हुए कहा, ''कोविड-19 (कोरोना वायरस) से डरना नहीं, जागरूक बनना है। अपने हाथों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान दें और 20 से 25 सेकंड तक हाथों की सफाई जरूर करें। इस संदेश को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाएं।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट के जरिए बताया कि नोवल कोरोनावायरस को लेकर गठित मंत्रिमंडल समूह की उच्च स्तरीय बैठक नई दिल्ली स्थित निर्माण भवन में संपन्न हुई। उन्होंने बताया कि बैठक में कोरोना वायरस को लेकर मौजूदा स्थिति की समीक्षा की गई।

भारत में कोरोनावायरस के 184 मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें 141 भारतीय और 25 विदेशी शामिल हैं। कुल मरीजों में 15 अब तक स्वस्थ हो चुके हैं जबकि कोरोनावायरस से चार लोगों की मौत हो चुकी है। नोवल कोरोनावायरस का प्रकोप पिछले साल दिसंबर में चीन के वुहान शहर से पैदा हुआ और अब तक इससे घातक वायरस ने दुनियाभर में 7,000 से अधिक लोगों की जानें ले ली हैं जबकि 1.50 लाख से अधिक लोगों में इस वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। चीन में कोरोनावायरस के प्रकोप से 3,189 लोगों की मौत की रिपोर्ट है, जबकि इसके संक्रमण के 80,824 मामलों की पुष्टि हुई है।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned