COVID-19 Update: Cobot-19 से काेराेना की अफवाहाें पर लगेगी लगाम, मिलेगी सही जानकारी

COVID-19 Update: काेराेना वायरस के बढ़ते प्रकाेप में अफवाहाें का दाैर भी गरम है। जिसके कारण कई लोग गुमराह हो रहे हैं। ऐसी स्थिति से लोगों को बचाने के लिए होम हेल्थकेयर कंपनी पोर्टिया मेडिकल ने कस्टूमर सपोर्ट एण्ड इंगेजमेंट ऑटोमेशन प्लेटफॉर्म वेरलूप के साथ साझेदारी में Cobot-19 सूचना...

COVID-19 Update: काेराेना वायरस के बढ़ते प्रकाेप में अफवाहाें का दाैर भी गरम है। जिसके कारण कई लोग गुमराह हो रहे हैं। ऐसी स्थिति से लोगों को बचाने के लिए होम हेल्थकेयर कंपनी पोर्टिया मेडिकल ने कस्टूमर सपोर्ट एण्ड इंगेजमेंट ऑटोमेशन प्लेटफॉर्म वेरलूप के साथ साझेदारी में Cobot-19 सूचना और जागरूकता चैटबॉट काे लॉन्च किया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO), रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) और जॉन्स हॉपकिंस सहित विश्वस्त स्रोतों से जुटाए गए आंकड़ों के माध्यम से कोबोट -19 चैटबॉट कोरोनोवायरस से संबंधित जानकारी का प्रसार करेगा।

पोर्टिया के विशेषज्ञों ने यह सुनिश्चित करने के लिए जानकारी की समीक्षा की है कि आम जनता के साथ केवल प्रामाणिक, उपयोगी और आसानी से समझी जाने वाली जानकारी पहुंचे। चैटबोट के तकनीकी पहलुओं को वेरलूप ने विकसित किया है।

गोवा सरकार में स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत पी राणे ने कहा कि हम COVID -19 और इसके विभिन्न पहलुओं पर हमारे नागरिकों के लिए सूचना के एक-स्टॉप स्रोत के रूप में कोबोट -19 को लॉन्च करके खुश हैं। सिंगापुर सरकार ने हाल ही में व्हाट्सएप की शक्ति का कैसे उपयोग किया, इससे प्रेरणा लेते हुए, हमने इस चैटबॉट को बनाया है। यह COVID -19 काे लेकर फैल रही अफवाहाें काे रोकने के लिए एक प्रभावी इंटरफेस होगा। हम पोर्टिया मेडिकल और वेरलूप को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद देते हैं।

कोबट -19 के माध्यम से लोग अन्य बातों के अलावा संक्रमित होने से बचने के लिए बरती जाने वाली सावधानियों, प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए आहार और इमरजेंसी की स्थिति में स्वास्थ्य विभाग की संपर्क जानकारी लें सकेंगे।


पोर्टिया मेडिकल के एमडी और सीईओ, मीना गणेश ने कहा कि भारत जैसे देश में, जहां 100 मिलियन से अधिक वरिष्ठ नागरिकों की आबादी है। जो विशेष रूप से कमजोर हैं, उन्हें इस सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल के दौरान सत्यापित सूचना, शिक्षा और फर्जी समाचार से बचने के लिए, सही प्रसार आवश्यक है। कोबोट -19 के जरिए हमारा प्रयास है कि लोग अफवाहों से दूर रहें, वे कोरोनोवायरस महामारी से संबंधित नवीनतम घटनाओं से अवगत रहें और जानें कि किसे संपर्क करना है। सिंगापुर के बाद भारत एकमात्र ऐसा देश हैं, जिसने बड़े पैमाने पर एक चैटबोट को लॉन्च किया है और सफल रहने पर हम इसे राष्ट्रीय स्तर पर भी दोहराने का लक्ष्य रखते हैं।

चैटबॉट का उपयोग करने के लिए, लोगों को अपने संपर्कों में व्हाट्सएप नंबर +91 7948058218 को जोड़ना होगा। एक बार जब लोग संदेश का उपयोग करते हैं, तो बॉट उनका एक स्वागत संदेश के साथ अभिवादन करेगा और उन्हें आवश्यक जानकारी के आधार पर उपलब्ध विकल्पों में से चुनने के लिए कहेगा। बॉट वर्तमान में अंग्रेजी और कोंकणी में उपलब्ध है।

वेरलूप के संस्थापक गौरव सिंह ने कहा कि ऐसे स्वास्थ्य संकट के दौरान, लोग हमेशा सूचना के सत्यापित स्रोतों की तलाश करते हैं। कोबोट -19 के माध्यम से उन्हें COVID-19 के बारे में व्यापक विश्वस्त सूचना उपलब्ध होगी। उन्हें इस बात की जानकारी होगी की कोरोनावायरस से कैसे बचाव करना है, इसके निवारक उपाय क्या करने हैं। इसके साथ ही हेल्पलाइन नंबरों की एक सूची उपलब्ध होगी जो जरूरत पड़ने पर काम आएगी।

coronavirus
Show More
युवराज सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned