scriptDanger signs and symptoms of mouth ulcers blisters turning into cancer | Danger sign of mouth ulcers: 14 दिन से ज्यादा मुंह में बने रहें छाले, तो तुंरत कराएं जांच, जाने माउथ अल्सर के गंभीर कारण | Patrika News

Danger sign of mouth ulcers: 14 दिन से ज्यादा मुंह में बने रहें छाले, तो तुंरत कराएं जांच, जाने माउथ अल्सर के गंभीर कारण

Moutg Blisters: मुंह में छाले बहुत ही आम समस्या हैं, लेकिन अगर ये 14 दिनों से ज्यादा मुंह में बने रहें तो ये गंभीर बीमारी का संकेत देते हैं।

Updated: May 17, 2022 07:40:09 am

क्या आपके मुंह में भी बार-बार छाले होते रहते हैं। ये छाले किसी न किसी बीमारी या समस्या का संकेत होते हैं। मुंह में किसी भी तरह का घाव या चोट सबसे पहले सही होता है, लेकिन अगर आपके छाले लंबे समय से बने हैं या बार-बार बन रहे हैं तो आपको इसकी जांच करानी चाहिए।
danger_signs_and_symptoms_of_mouth_ulcers_.jpg
Danger signs and symptoms of mouth ulcers/blisters
मुंह में छाले बनने के कई कारण हो सकते हैं। छालों अगर 14 दिनों से ज्यादा मुंह में बने हैं तो ये कैंसर के भी लक्षण हो सकते हैं। वहीं माउथ अल्सर में भी ये बदल सकता है। इसलिए इसे बिलकुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। तो चलिए जानें कि मुंह में छाले बनने के की क्या-क्या वजहें हो सकती हैं।
मुंह में छाले होने की वजह-causes of blisters

1. सबसे सामान्य कारण मुंह में छाले का होता है बहुत अधिक मिर्च-मसाले खाना। इससे पेट में जलन होती हैं और पेट की गर्मी से ये छाले निकल जाते हैं।
2. खाते समय कई बार गाल या जीभ दांतों के नीचे आ जाती है, तभी घाव छाले में बदल जाता है। वहीं, कई बार जल्दीबाजी में ब्रश करने से भी मसूड़ों में चोट से छाले बन जाते हैं।
3. एंटीबायोटिक खाने से भी पेट में गर्मी होती है और इससे छाले बन जाते हैं। अधिक मात्रा में एंटीबायोटिक का इस्तेमाल करने से आंतों में अच्छे जीवाणुओं की संख्या घट जाती है और मुंह में छाले पैदा हो जाते हैं।
4. कुछ लोगों में दांतों के शेप के कारण भी मुंह में छाले होते हैं। आड़े-तिरछे, नुकीले या आधे टूटे हुए दांत की वजह से जीभ को नुकसान होता है। लगातार रगड़ लगने से छाले बनते हैं।
5. तंबाकू-सुपारी या पान मसाला सबसे बड़ा कारण है मुंह के छालों के बनने का। इससे होने वाले छाले अधिकतर कैंसर में तब्दील होते हैं। गुटका खाने के बाद बिना कुल्ला किए रहने वाले लोगों में सबसे पहले ये समस्या आती है।
6. मानसिक तनाव भी एक वजह है मुंह के छालों की। यह तनाव चाहे परीक्षा का हो या नौकरी में काम के दबाव का या अन्य किसी अन्य बात का।
छालों को लेकर रहें सतर्क-Be careful about ulcers

ध्यान रहे कि दांत लंबे समय तक जीभ या गाल को चोट पहुंचाते रहे, तंबाकू का लगातार सेवन और मिर्च-मसालों का लगातार सेवन करने की आदत कैंसर में तब्दील हो सकती है। क्योंकि छाले बार-बार होना यही संकेत देते हैं।
कैंसर में तब्दील छालों के लक्षण-symptoms of ulcers turning into cancer

यदि छाले कैंसर में बदल जाते हैं, तो शुरू-शुरू में उनमें कोई दर्द नहीं होता। ये छाले सामान्य रूप से नजर आते हैं, लेकिन धीरे-धीरे ये बढ़ने लगते हैं और इसमें सड़न सी महक आनी शुरू होती है। कई बार ये छाले पीले से काले तक हो जाते हैं। बाद में थूक के साथ खून आना भी शुरू हो सकता है। यहां तक कि खाना निगलने में भी परेशानी का अनुभव होने लगता है। भले ही ये छाले ऊपर से छोटे हों लेकिन इनका प्रभाव गले तक पहुंच जाता है।
डिस्क्लेमर- आर्टिकल में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करते हैं। इन्हें आजमाने से पहले किसी विशेषज्ञ अथवा चिकित्सक से सलाह जरूर लें। 'पत्रिका' इसके लिए उत्तरदायी नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Ranji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैम्पियन मुंबई को 6 विकेट से हरा जीता पहला खिताबBypoll results 2022 LIVE: पंजाब की संगरूर सीट पर AAP को मिली हार, UP की रामपुर सीट पर BJP जीतीMaharashtra Political Crisis: केंद्र ने शिवसेना के बागी 15 विधायकों को दी Y प्लस कैटेगरी की सुरक्षा, शिंदे गुट ने डिप्टी स्पीकर के खिलाफ लिया ये फैसलाMaharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे गुट के लिए शिवसेना पर दावा पेश करना आसान नहीं! यहां जानें EC का नियमसिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद, फिर से सामने आया कनाडाई (पंजाबी) गिरोहIAS के बेटे की मौत या मर्डर? छापेमारी में मिला 12 किलो सोना, 3 KG चांदी, जानिए क्या है पूरा मामलाAzamgarh Rampur By Election Result : रामपुर और आजमगढ़ में भाजपा और सपा के बीच कड़ा मुकाबलाNDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के गांव में नहीं है बिजली , शुरू हुआ खंभे, ट्रांसफार्मर लगाने का काम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.