'कोरोना वायरस की महामारी कब खत्म होगी यह कहना मुश्किल'

डब्ल्यूएचओ के अधिकारियों ने कहा है कि यह अनुमान लगाना कठिन था कि वैश्विक स्तर पर फैली कोविड-19 महामारी कब खत्म होगी, लेकिन देशों को इस बारे में सकारात्मक रहना चाहिए और वायरस पर काबू पाने के प्रयास में सहयोग करना चाहिए,

जिनेवा । विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अधिकारियों ने कहा है कि यह अनुमान लगाना कठिन था कि वैश्विक स्तर पर फैली कोविड-19 महामारी कब खत्म होगी, लेकिन देशों को इस बारे में सकारात्मक रहना चाहिए और वायरस पर काबू पाने के प्रयास में सहयोग करना चाहिए, ताकि ये आगे न फैले। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने डब्ल्यूएचओ हेल्थ इमर्जेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक माइकल रयान के हवाले से बताया, "हमारे सामने पहली बार मानव आबादी में प्रवेश करने वाला एक नया वायरस है, और इस पर भविष्यवाणी करना बहुत कठिन है।" बुधवार को रयान ने एक संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही थी।

रयान ने कहा, "मुझे लगता है कि इसे मेज पर रखना महत्वपूर्ण है। यह वायरस हमारे समुदायों में एक स्थायी वायरस बन सकता है और हो सकता है कि यह वायरस कभी दूर न जाए।" "यह महत्वपूर्ण है कि हम यथार्थवादी हों और मुझे नहीं लगता कि कोई भी यह भविष्यवाणी कर सकता है कि यह बीमारी कब और कैसे जाएगी। उनका मानना है कि "महामारी को लेकर भविष्य के लिए आशा रखें", यह "दुनिया के लिए एक बड़ा अवसर" है और दुनिया को "एकजुटता के माध्यम से, हमारी समस्याओं को हल करने के लिए विश्वास के साथ एक साथ काम करें।"

डब्ल्यूएचओ में कोविड-19 के तकनीकी प्रमुख मारिया वान केरखोव ने कहा, "हमने देशों को इस वायरस को नियंत्रण में लाते देखा है, हमने देखा है कि देशों ने इस पर नियंत्रण करने और एक पर्याप्त स्तर तक संचरण को दबाने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों का उपयोग किया है। सार्वजनिक स्वास्थ्य और महामारी विज्ञान के बुनियादी ढांचे और क्लीनिकल देखभाल का उपयोग किया है, ताकि वायरस को कम किया जा सके। गुरुवार सुबह तक, वैश्विक स्तर पर कोविड-19 मामलों की कुल संख्या 4,347,015 थी, जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 297,197 हो गई है।

विकास गुप्ता Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned