2024 की तैयारी में अभी से जुटे पीएम मोदी, नवग्रह शांति को लगाए नौ पौधे

  • PM Modi in Varanasi : मोदी ने वाराणसी की आनंद कानन वाटिका में नव ग्रहों के आधार पर नौ पौधे लगाए हैं
  • शास्त्रों में इन पौधों को पंचकोशी परिक्रमा के लिए अहम माना जाता है

By: Soma Roy

Updated: 06 Jul 2019, 12:53 PM IST

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी का आध्यात्म की तरफ झुकाव शुरू से ही देखने को मिला है। तभी ध्यान से लेकर मंदिरों के दर्शन करना उनके जीवन का एक हिस्सा रहे हैं। मगर प्रधानमंत्री पद की दावेदारी और चुनाव में जीत हासिल करने के मकसद ने उनकी इस धार्मिक भावना को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है। आज पीएम नरेंद्र मोदी वाराणसी ( Varanasi )के आनंद कानन वाटिका में नव ग्रहों के आधार पर नौ पौधे लगाएं। जानकारों के मुताबिक मोदी का ये कदम साल 2024 के चुनाव की रणनीति माना जा रहा है।

1.चुनाव आते ही पीएम नरेंद्र मोदी का धार्मिक कनेक्शन तेज हो जाता है। तभी उन्होंने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के मकसद से केदारनाथ के दर्शन किए थे। वे चुनाव प्रचार खत्म होने के अगले दिन ही केदारनाथ और ब्रदीनाथ के लिए रवाना हो गए थे।

शनिवार को दिख जाए ये चीजें तो तुरंत करें ये 10 उपाय, शनि देव होंगे प्रसन्न

2.पीएम मोदी ने मन की शांति के लिए केदारनाथ गुफा में 24 घंटे बिताए थे। यहां उन्होंने ध्यान किया था। जानकारों के मुताबिक मोदी चुनावी दांवपेचों के बीच खुद को स्थिर रखने के लिए केदारनाथ मत्था टेकने गए थे।

3.पिछले साल की चुनावी रणनीति की तरह अब पीएम मोदी का लक्ष्य साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करना है। विद्वानों की मानें तो रोजाना के पूजा-पाठ के अलावा मोदी ने धार्मिक कार्य करने शुरू कर दिए हैं। तभी वे शनिवार को वाराणसी के आनंद कानन वाटिका में नौ पौधे लगाने पहुंचे हैं।

4.पीएम नरेंद्र मोदी के पौधारोपण करने को इसलिए खास माना जा रहा है क्योंकि वे नौ पौधे नवग्रहों के अनुसार लगाए गए हैं। इससे उनके नवग्रहों की शांति होगी। नतीजतन उनके कार्यों में आने वाली बाधाएं दूर होंगी। चूंकि आज शनिवार भी है ऐसे में नवग्रहों के आधार पर पेड़ लगाए जाने का महत्व और ज्यादा बढ़ गया है। क्योंकि ये दिन शनि समेत अन्य क्रूर ग्रहों को शांत करने वाला माना जाता है।

5.मोदी की ओर से लगाए जाने वाले पौधों की एक और खासियत है वो है उनका धार्मिक कनेक्शन। जानकारों के मुताबिक नवग्रहों के लिए लगाए जाने वाले ये पौधे दैविक, दैहिक और भौतिक आधार पर होंगे।

 

pm modi

6.शास्त्र पुराणों में इस तरह के पौधों का विशेष महत्व बताया गया है। इसे पंचक्रोशी परिक्रमा का एक अहम अंग माना जाता है। इन्हें लगाने से मानसिक शांति मिलती है। साथ ही किस्मत भी चमकती है।

7.पीएम मोदी का प्लान रामेश्वर जाने का भी था, लेकिन वाराणसी में जल संचयन अभियान की शुरूआत के चलते उन्हें यहां आना पड़ा।

9.साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भी जीत हासिल करने के लिए मोदी ने आध्यात्म का सहारा लिया था। उन्होंने काशी विश्वनाथ में मत्था टेककर आशीर्वाद लिया था।

10.इसके अलावा पीएम मोदी ने गुजरात में देवी मां के मंदिर में भी दर्शन किए थे। उन्होंने यहां पूजा अर्चना करके अपनी आगामी रणनीति तैयार की थी।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned