कॉलेज से पासआउट होने पर छात्राओं को डिग्री के साथ ही मिलेगा पासपोर्ट : सीएम खट्टर

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को महाविद्यालय विद्यार्थियों के लिए घोषणाएं की। सभी महाविद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को उनके शिक्षण संस्थान में ही ड्रॉइविंग लाइसेंस प्रदान किये जाएंगे।

By: Deovrat Singh

Published: 12 Jul 2020, 10:52 AM IST

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को महाविद्यालय विद्यार्थियों के लिए घोषणाएं की। सभी महाविद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को उनके शिक्षण संस्थान में ही ड्रॉइविंग लाइसेंस प्रदान किये जाएंगे। साथ ही छात्राओं के लिए एक और घोषणा की गई कि उनकी स्नातक की डिग्री पूरी होने पर पासपोर्ट भी डिग्री के साथ में प्रदान किया जाएगा और इसके लिए पूरी प्रक्रिया कॉलेज में पूरी होगी।

"राज्य सरकार ने फैसला किया है कि सभी छात्राओं को अपनी स्नातक की डिग्री के साथ अपने संस्थानों से पासपोर्ट प्राप्त होना चाहिए", शिक्षार्थियों के ड्राइविंग लाइसेंस और मुफ्त हेलमेट प्रदान करने के लिए शनिवार को आयोजित एक कार्यक्रम "हर सर हेलमेट" के दौरान हरियाणा के सीएम ने यह घोषणा की। उन्होंने यह भी कहा कि छात्रों को ट्रैफिक नियमों से अवगत कराने के लिए शिक्षार्थी के लाइसेंस दिए जाएंगे।

इस अवसर पर, सीएम खट्टर ने कुछ छात्रों को हेलमेट भी वितरित किए और कहा कि "इस तरह का कार्यक्रम राजनीतिक विषय से अलग है और इसके दीर्घकालिक परिणाम होंगे।" उन्होंने आगे कहा कि हेलमेट पहनने से दुर्घटनाओं में मृत्यु की संख्या कम हो सकती है।

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned