अन्नपूर्णा योजना : इस राज्य में 1 रुपए में गेहूं और चावल पाने का मौका, बिना राशन कार्ड भी सरकार दे रही अनाज

  • Annapurna Yojana : शिवराज सरकार ने अन्नपूर्णा योजना के तहत अन्न उत्सव किया शुरू
  • 37 लाख नए लाभार्थियों को भी मिलेगा मुफ्त अनाज, राशन कार्ड की नहीं पड़ेगी जरूरत

By: Soma Roy

Published: 03 Oct 2020, 05:29 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल के दौरान आर्थिक दिक्कतों के चलते कोई भूखा न सोए इसके चलते पूरे देश में केंद्र सरकार (Central Government) की ओर से राशन बांटा जा रहा है। वहीं राज्य सरकारों की ओर से भी इसमें मदद दी जा रही है। अगले महीने से त्योहारों का सिलसिला शुरू होने वाला है। ऐसे में मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) ने लोगों को खुशियों की सौगात देने की कोशिश की है। शिवराज सरकार ने प्रत्येक गरीब व्यक्ति को अनाज सुनिश्चित करने के लिए अन्नपूर्णा योजना (Annapurna Yojana) के तहत अन्न उत्सव शुरू किया है। इसमें राज्य के 37 लाख ऐसे परिवारों को फायदा होगा, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है। तो कैसे उठाएं योजना का फायदा, जानें विवरण।

योजना के फायदे
1.अन्नपूर्णा योजना के तहत लाभार्थियों को 1 रुपए प्रति किलो की दर पर चावल, गेहूं और नमक मिलेगा।
2.हर लाभार्थी को 5 किलो अनाज प्रत्येक महीने दिया जाएगा।
3.नए लाभार्थियों को पात्रता पर्ची दिखाकर मिलेगी अनाज लेने की सुविधा।
4.जिनके पास राशन कार्ड नहीं है उनकी भी पहचान कर उन्हें अनाज दिया जा रहा है।

यहां भी चल रहा मुफ्त राशन बांटने का काम
केंद्र सरकार की ओर से गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत नवंबर महीने तक गरीब तबके के लोगों को मुफ्त में राशन बांटा जा रहा है। जबकि अन्य वर्ग के लोग राशन कार्ड के जरिए किफायती दाम में अनाज ले सकते हैं। प्रत्यके लाभार्थी को 5 किलो गेहूं व चावल दिया जाएगा। अगर आप किसी अन्य राज्य के रहने वाले हैं इसके बावजूद वन नेशन वन राशन कार्ड के जरिए राशन ले सकते हैं। दिल्ली सरकार की आरे से भी लोगों को फ्री में राशन दिया जा रहा है। इसके लिए पर्ची दिखाने की जरूरत होगी।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned