इन 6 लोगों की मदद से बना है बजट 2019, एक-एक पर है पीएम मोदी का अटूट भरोसा

इन 6 लोगों की मदद से बना है बजट 2019, एक-एक पर है पीएम मोदी का अटूट भरोसा

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 05 Jul 2019, 09:08:03 AM (IST) फाइनेंस

  • आज सुबह 11 बजे संसद में बजट पेश करेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण।
  • 6 अधिकारियों की टीम तैयार करती है बजट।
  • एक दिन पहले ही सीतारमण ने इकोनाॅमिक सर्वे पेश किया था।

नई दिल्ली। लगातार दूसरी बार सत्ता में आने के बाद आज नई वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ( Nirmala Sitharaman ) अपना पहला बजट 2019 पेश करेंगी। एक दिन पहले ही उन्होंने आर्थिक सर्वक्षण पेश किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) सरकार की एक बार फिर उम्मीद होगी दोबारा सत्ता में आने के बाद वो कैसे आम जनता की उम्मीदों पर खरे उतरेंगे। आज जिस बजट को निर्मला सीतारमण संसद में 11 बजे पेश करेंगी, उसे बनाने के लिए 6 लोगों की पूरी जिम्मेदारी होती है। आज हम आपको इन्हीं 6 लोगाें के बारे में बताने जा रहे हैं।

निर्मला सीतारमण जिस टीम के भरोसे अपने काम को अंजाम देने जा रही हैं, उनमें कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम, सुभाष गर्ग, अजय भूषण पांडेय, जीसी मुर्मू, राजीव कुमार और अतनू चक्रवर्ती शामिल हैं। इन लोगों के जिम्मे ही मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के पहले बजट को धार देने की जिम्मदारी है।

K Subramaniam

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम: के सुब्रमण्यम के नाम से जाने वाले यह व्यक्ति मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार हैं। अर्थव्यवस्था को धार देने की सबसे अधिक जिम्मेदारी इनके ही कंधे पर है। के सुब्रमण्यम यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो से फाइनैंशल इकोनमिक्स में पीएचडी होल्डर हैं।

SC Garg

सुभाष गर्ग: वित्त सचिव सुभाष गर्ग नॉर्थ ब्लॉक के सबसे पुराने चेहरों में से हैं। अपने सेवाकाल में उन्होंने कई बजट देखे हैं। इनके सामने इस बार सुस्त होती अर्थव्यस्था, उपभोग के वस्तुओं की घटती मांग और प्राइवेट इनवेस्टमेंट में कमी जैसी चुनौतियां सामने हैं। जिनसे निजात दिलाना इनकी सबसे बड़ी चुनौती है।

Ajay Bhushan Pandey

अजय भूषण पांडेय: रिवेन्यू सेक्रेटरी अजय भूषण पांडेय की भूमिका AADHAAR के मामले में बखूबी देखी जा चुकी है। रिवेन्यू की जिम्मेदारी अब उनके कंधों पर है।

GC Murmu

जीसी मुर्मू: व्यय सचिव जीसी मुर्मू गुजरात कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। पहले वह फाइनैंस सर्विस और रिवेन्यू डिपार्टमेंट में सेवाएं दे चुके हैं। योजनाओं को लागू करने में इनकी खासी भूमिका रही है।

Rajeev kUmar

राजीव कुमार: फाइनेंशियल सर्विस सेक्रेटरी राजीव कुमार के ऊपर बैड लोन काबू करने की जिम्मेदारी है। मोदी सरकार की कई योजनाओं को धरातल पर उतारने में इनका काफी योगदान रहा है।

Atunu Chakravarty

अतनू चक्रवर्ती: DIPAM सचिव अतनू चक्रवर्ती 1985 गुजरात बैच के आईएएस अधिकारी हैं। इन्होंने पिछले साल विनिवेश के टारगेट को समय रहते पूरा किया था।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned