scriptNo consensus on compensation issue next GST Council Meet on October 12 | GST Council Meet : मुआवजे पर सहमति ना बनने के बावजूद राज्यों को 20 हजार करोड़ का सेस जारी करेगी केंद्र सरकार | Patrika News

GST Council Meet : मुआवजे पर सहमति ना बनने के बावजूद राज्यों को 20 हजार करोड़ का सेस जारी करेगी केंद्र सरकार

  • इस साल जमा हुआ 20 हजार करोड़ रुपए के सेस को आज रात कर दिया जाएगा जारी
  • 10 राज्यों ने की मांग, शर्तों के अनुसार मौजदा साल में केंद्र सरकार से मिलनी चाहिए पूरी रकम

नई दिल्ली

Updated: October 06, 2020 07:33:16 am

नई दिल्ली। जीएसटी काउंसिल की 42वीं मीटिंग बेनतीजा साबित हुई। केंद्र सरकार और राज्यों के बीच मुआवजे की रकम को लेकर कोई सहमति नहीं बनी। अब 12 अक्टूक को अगली बैठक होगी। केरल के वित्त मंत्री के अनुसार 10 राज्यों की ओर से शर्तों और नियमों के अनुसार मांग की है कि उन्हें इस साल मुआजे की पूरी रकम मिलनी चाहिए। वहीं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस जमा किया हुआ सेस आज आत राज्यों को जारी कर दिया जाएगा।

gst_meet.png
No consensus on compensation issue next GST Council Meet on October 12

यह भी पढ़ेंः- सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कहां है कामत समिति की सिफारिशें, अब 13 अक्टूबर को होगी सुनवाई

12 अक्टूबर को होगी अगली बैठक
जीएसटी काउंसिल की मीटिंग में राज्यों और केंद्र सरकार के बीच किसी तरह की कोई सहमति नहीं बन सकी। जिसकी वजह से अब 12 तारीख तक के लिए मीटिंग को टाल दिया गया है। केरल के फाइनेंस मिनिस्टर थॉमस इसाक ने बताया कि 10 राज्यों की मांग है कि शर्तों के अनुसार मौजूदा वर्ष में केंद्र सरकार की ओर से पूरी रकम देनी चाहिए। उन्होंने इसके लिए केंद्र सरकार को लोन लेने की सलाह दी है।

यह भी पढ़ेंः- 20 साल की सबसे बड़ी उंचाई पर आईटी दिग्गज विप्रो, जानिए निवेशकों की कितनी हुई कमाई

आज 20 हजार करोड़ रुपए जारी करेगा केंद्र
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण मीटिंग के बेनतीजा रहने के बाद मीडिया को मुखाितब होते हुए कहा कि मौजूदा वर्ष में अभी सेस के रूप में 20,000 करोड़ रुपए जमा हुए हैं। जिन्हें आज रात को ही राज्यों को वितरित कर दिया जाएगा। फाइनेंस मिनिस्टर के अनुसार जीएसटी काउंसिल को इस बात का फैसला अभी लेना बाकी है कि मुआवजा सेस को जून 2022 तक बढ़ाया जाए या नहीं।

यह भी पढ़ेंः- ट्रंप की सेहत में सुधार से न्यूयॉर्क से लेकर नई दिल्ली तक सोना और चांदी हुआ कितना सस्ता

2.35 लाख करोड़ रुपए जीएसटी कलेक्शन में कमी
दूसरी ओर रेवेन्यू सेक्रेटरी अजय भूषण पांडे ने बताया कि मौजूदा समय में जीएसटी कलेक्शन में 2.35 लाख करोड़ रुपए की कमी देखने को मिली है। जिसमें से 97,000 करोड़ रुपए जीएसटी का बकाया है। बाकी रकम कोरोना वायरस की वजह से कम हुई है। आपको बता दें कि अगस्त में हुई जीएसटी काउंसिल की बैठक में केंद्र सरकार ने जीएसटी की भरपाई के लिए दो विकल्प सुझाए थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तभारत ने ओडिशा तट से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक किया परीक्षणNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारदिल्‍ली दंगा 2020 केस में पहली सजा, दोषी को मिली 5 साल की जेल6 रुपये की चाय, 37 रुपये में नाश्ता, जानें चुनावी खर्च के नियमUttar Pradesh Assembly Elections 2022: भीषण शीतलहरी में पूर्वांचल हुआ गर्म, दो मुख्यमंत्रियों के चुनावी मैदान में उतरने की आस ने बढ़ाई सरगर्मी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.