Gaushala in Firozabad: मुर्गियों के लिए गायों को गौशाला से निकाला बाहर, फजीहत हुई तो शुरू हुई गायों की खोज, देखें वीडियो

Gaushala in Firozabad: मुर्गियों के लिए गायों को गौशाला से निकाला बाहर, फजीहत हुई तो शुरू हुई गायों की खोज, देखें वीडियो
cow

arun rawat | Updated: 15 Jul 2019, 12:07:57 PM (IST) Firozabad, Firozabad, Uttar Pradesh, India

— ग्राम पंचायत रसूलाबाद के ठार बल्दी में ग्राम पंचायत द्वारा खोली गई थी अस्थाई गौशाला, मामला संज्ञान में आने पर मौके पर पहुंचे अधिकारी।

फिरोजाबाद। गौवंश से परेशान किसानों की समस्या के समाधान को लेकर पूर्व कैबिनेट मंत्री व वर्तमान आगरा सांसद प्रो. एसपी सिंह बघेल ने जिस गौशाला का शुभारंभ किया था। आज उसी गौशाला से गायों को बाहर निकाल दिया गया जबकि उनके स्थान पर मुर्गी पालन केन्द्र खोल दिया। रविवार को गौशाला से निकाली गईं गाएं आस-पास गांवों में घूमती नजर आईं। जब यह मामला उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आया तो आनन—फानन में निकाली गईं गायों को वापस गौशाला में लाने के लिए उनकी खोज शुरू कर दी गई।

यह भी पढ़ें—

Corruption in Firozabad गौशाला की अनुमति लेकर लेकर खोल लिया मुर्गी फार्म, पढ़िए पत्रिका की स्पेशल रिपोर्ट, देखें वीडियो

 

ठार बल्दी में है गौशाला
ग्राम पंचायत रसूलाबाद के ठार बल्दी में करीब एक वर्ष पूर्व अस्थाई गौशाला ग्राम पंचायत द्वारा खुलवाई गई थी। गांव से बाहर बनी इस गौशाला में गायों के लिए पानी और भूसे की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी ग्राम पंचायत की थी। इसका शुभारंभ आगरा सांसद प्रो. एसपी सिंह बघेल ने जब किया था, तब इसके अंदर करीब दो दर्जन से अधिक गौवंश थे। धीरे-धीरे इसमें से सांडों को बाहर निकाल दिया गया और करीब डेढ़ दर्जन गाय इस गौशाला में रह गई थीं।

यह भी पढ़ें—

Harsh Firing: आगरा के भाजयुमो महानगर अध्यक्ष के खिलाफ थाना टूंडला में मुकदमा दर्ज, शादी में की थी हर्ष फायरिंग, देखें वीडियो

 

 

cow

कम होती गई गायों की संख्या
ग्रामीणों ने बताया कि करीब दस दिन पूर्व इस गौशाला के दस से 12 गाय थीं। जिन्हें वहां रह रहे प्रेमचन्द्र नामक व्यक्ति ने रविवार सुबह बाहर निकाल दिया। गाय घूमती हुई आस-पास के गांवों में पहुंच गईं। इनमें एक गाय और उसका एक छोटा सा बछड़ा भी इधर-उधर भटक रहा था। ग्रामीणों ने जब उनकी पहचान के लिए कान पर लगाए गए टैग को देखा तब जानकारी हुई कि यह सभी गाय गौशाला की हैं।

यह भी पढ़ें—

Bull Live Fight in Firozabad: दो सांडों में हुआ खूनी संघर्ष, सब कुछ कर दिया तहस नहस, नाले में गिरकर एक की मौत, देखिए लाइव वीडियो

गौशाला में खुल गया मुर्गी पालन
गौशाला के अंदर रह रहीं गायों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया लेकिन उसमें मुर्गी पालन केन्द्र खुल गया है। जिसमें करीब तीन दर्जन से अधिक मुर्गियां पल रही हैं। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत ग्राम प्रधान से भी की लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। योगी सरकार में गायों की दुर्दशा हो रही है।

यह भी पढ़ें—

17 जुलाई से प्रारंभ हो रहे श्रावण मास, भगवान शिव को प्रसन्न करना है तो करें यह काम

मौके पर पहुंचे बीडीओ
जब इसकी जानकारी पशु चिकित्साधिकारी व प्रभारी बीडीओ डॉ. नीरज गर्ग को हुई तो वह सोमवार सुबह मौके पर पहुंचे। उनके पहुंचने से पहले ही गौशाला पर रहने वाले चौकीदार ने अपने साथियों को लगाकर गायों की खोज शुरू कर दी और उन्हें गौशाला में ले गए। हालांकि इस मामले को लेकर उच्चाधिकारी कार्रवाई के मूड़ में हैं। अधिकारी जांच कर कार्रवाई करने की बात कर रहे हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned