फिरोजाबाद में डेंगू के डंक का शिकार हो रहे बच्चे, अब सात की मौत

— जिले भर में जिला प्रशासन लगातार फोगिंग करा रहा है, बावजूद इसके डेंगू के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं।

By: arun rawat

Published: 13 Sep 2021, 04:04 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में डेंगू के डंक के शिकार हो रहे बच्चे दम तोड़ रहे हैं। अब सात और बच्चों की मौत होने के बाद जिले भर में बीमारी से मरने वालों की संख्या 135 पहुंच गई है। मुख्यमंत्री की विजिट के बाद भी यहां हालातों में कोई सुधार नजर नहीं आ रहा है। मेडिकल कॉलेज के बाहर अभी भी माता—पिता अपने बीमार बच्चों के ठीक होने की आस लगाए बैठे हैं।
यह भी पढ़ें—

फिरोजाबाद के बीमार बच्चों में पाया गया डेंगू का स्ट्रेन—2, डॉक्टरों ने की पुष्टि

इन बच्चों की हुई मौत
फिरोजाबाद में अगस्त माह के बाद हर रोज बच्चे डेंगू से दम तोड़ते नजर आ रहे हैं। बच्चों के इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में 70 डॉक्टर नियुक्त हैं बावजूद इसके बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। शहर के मालवीय नगर निवासी 12 वर्षीय आकाश पुत्र पप्पू को बुखार आ गया था। परिजन उसे एफएच मेडिकल कॉलेज लेकर जा रहे थे। रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। यमुना नगर निवासी 7 वर्षीय सुरभि पुत्री लोकेश की डेंगू से मौत हो गई। 11 वर्षीय उमाभारती पुत्री सुरेंद्र कुमार निवासी नगला करन सिंह की डेंगू से मौत हो गई। वहीं, 11 वर्षीय श्रेष्ठ बघेल पुत्र प्रवेंद्र बघेल, 8 माह के आदर्श पुत्र अमित शर्मा निवासी नगला विष्णु, 5 माह के हिमांशु पुत्र श्यामवीर निवासी टापा कला, 4 माह की खुशी पुत्री श्रीपाल निवासी जमालपुर की बुखार से मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज की प्राचार्या डॉ. संगीता अनेजा ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में कुल 70 बच्चों के डॉक्टर कार्य कर रहे हैं जबकि अभी तक 423 बच्चे एडमिट हैं। गंभीर बीमारी वाले बच्चों को भर्ती किया जा रहा है जबकि सामान्य जुकाम, सर्दी और खांसी वाले बच्चों को ओपीडी में दिखाकर घर भेज दिया जाता है।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned