बड़ी खबरः IRCTC से बुक किया गया वेटिंग आई-टिकट भी करा सकेंगे कैंसिल, जानिए कितना लगेगा कैंसिलेशन चार्ज

IRCTC के ई-टिकट के मुकाबले आई-टिकट के हैं कई फायदे

By: Iftekhar

Updated: 07 Jun 2018, 02:47 PM IST

गाजियाबाद. अगर आप ट्रेन से सफर पर जाना चाहते हैं, लेकिन रेलवे स्टेशन घर से दूर होने की वजह से काउंटर टिकट नहीं ले पा रहे है और IRCTC से ई-टिकट लेने पर कंफर्म नहीं होने की हालत में टिकट के कैंसिल होने का डर सता रहा है। तो आप IRCTC से आई टिकट ले सकते हैं। इस आई टिकट के लिए आप घर और दफ्तर में भैठे खुद ही एप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको IRCTC की वेबसाइट पर जाकर यात्रा की तारीख, प्रस्थान एवं गंतव्य स्थान के साथ ही अपना पूरा नाम और पता भरना होगा। इसके बाद आपको नेट बैंकिंग या डेबिट व क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन पेमेंट करना होगा। लेकिन, आपको टिकट नहीं मिलेगा। रेल्वे आपकी ओर से भरे गए पते पर डाक या कोरियर से टिकट भेजेगा। यह टिकट वैसा ही होता है, जैसे आप काउंटर टिकट हासिल करते हैं। लेकिन, ई-टिकट के मुकाबले आई टिकट के कई फायदे हैं।

यह भी पढ़ेंः मुजफ्फरनगर में फिर नफरत फैलाने का दौर शुरू, हिन्दूवादी नेता के बयान पर मची खलबली

आई-टिकट के ये हैं फायदे
आई टिकट, ई टिकट की तरह कंफर्म नहीं होने की हालत में खुद-बखुद कैंसिल नहीं होता है। अगर जरूरी हो तो आप आई-टिकट के वेंटिग रहने पर भी सफर कर सकते हैं। यह टिकट वेटिंग रह जाने की हालत में ई-टिकट की तरह खुद-बकुद कैंसिल नहीं होता है। अगर टिकट कंफर्म नहीं होता है और वेटिंग टिकट पर आप सफर नहीं करना चाहते हैं तो आप इसे कैंसिल कराकर रिफंड भी हासिल कर सकते हैं। दरअसल, ई-टिकट ठीक वैसा ही सामान्य टिकट होता है, जैसा कि हमें रेलवे के टिकट काउंटर से मिलता है। यह टिकट आप आईआरसीटीसी की आधिकारिक वेबसाइट www.irctc.co.in पर जाकर बुक करा सकते हैं। ऐसे में अगर आप इस टिकट को कैंसिल भी करना चाहें तो यह भी संभव है। यह काम आप देशभर के किसी भी रिजर्वेशन काउंटर (जहां कंप्यूटक सुविधा उपलब्ध हो) से ऑफलाइन के जरिए भी कर सकते हैं। यहां से आपको कैंसिल हुआ टिकट भी दिया जाता है। हालांकि, इस टिकट को काउंटर पर कैंसिल कराने पर पैसा कैश नहीं मिलता है, बल्कि ये उसी अकाउंट में वापस कराया जाता है, जिस अकाउंट से पेमेंट किया गया है। टिकट कैंसिल कराने पर इसके लिए चार्ज भी देना पड़ता है।

यह भी पढ़ेंः इस हिन्दूवादी नेता ने अमित शाह के खिलाफ खोला मोर्चा, बोले नैतिकता बची है तो पद से दें इस्तीफा

ट्रेन के डिपार्चर से पहले आई-टिकट कैंसिल कराने पर शुल्क

IRCTC के मुताबिक I-Ticket को काउंटर से कैंसिल करवाने की सूरत में आपको कोई भी पैसा काउंटर पर वापस नहीं किया जाएगा। वहीं, इस टिकट पर लगने वाला सर्विस चार्ज भी आपको वापस नहीं किया जाएगा। रिफंड होने वाला पैसा सीधे क्रेडिट कार्ड या नेट बैंकिंग अकाउंट में इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से वापस कर दिया जाता है।

#रिफंड का पैसा कैंसिलेशन चार्ज काटने के बाद ही वापस किया जाएगा।
#यानी अगर आप आरएसी (रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन)/वेटलिस्ट वाले टिकट को कैंसिल करवाते हैं तो आपको 60 रुपये काटकर पैसे वापस किए जाएंगे।
#अगर आप अपना कन्फर्म टिकट यात्रा के 48 घंटे पहले कैंसिल करवाते हैं को आपको एसी/फर्स्ट क्लास/एग्जीक्यूटिव क्लास के टिकट के कैंसिलेशन पर 240 रुपये कटौती के बाद टिकट के पैसे वापस किए जाएंगे।
#एसी-2 टियर एवं फर्स्ट क्लास के लिए कैंसिलेशन चार्ज 200 रुपये और एसी3 टियर/एसी चेयर कार/ एसी3 इकोनॉमी पैसेंजर) के लिए 180 रुपये, स्लीपर क्लास के लिए 120 रुपये और सेकेंड क्लास के टिकट के लिए 60 रुपये निर्धारित है।
#अगर ट्रेन खुलने के 12 घंटे से लेकर 48 घंटे पहले तक अगर टिकट कैंसिल करवाते हैं तो IRCTC के नियमों के मुताबिक कैंसिलेशन चार्ज फेयर (मिनिमम फ्लैट रेट) का 25 फीसद होगा।
#ट्रेन के खुल जाने के बाद टिकट कैंसिल कराने की सूरत में आई टिकट को बोर्डिंग स्टेशन पर यात्रा के 4 घंटे के भीतर भी कैंसिल करवाया जा सकता है। इस प्रक्रिया के लिए भी आपको काउंटर पर जाना होगा। कैंसिलेशन चार्ज निर्दिष्ट मिनिमम फ्लैट रेट का 50 फीसद होगा।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned