scriptMukhtar Ansari Wife Brother in Law Property Seized Arms Licence Cancle | मुख्तार अंसारी पर बड़ी कार्रवाई, एक दिन में 45 शस्त्र लाइसेंस निरस्त, पत्नी का घर व साले का बंगला सीज | Patrika News

मुख्तार अंसारी पर बड़ी कार्रवाई, एक दिन में 45 शस्त्र लाइसेंस निरस्त, पत्नी का घर व साले का बंगला सीज

मुख्तार अंसारी की पत्नी का भाई 25 हजार का ईनामी अनवर शहजाद एक दिन पहले मऊ में हआ गिरफ्तार, एंबुलेंस केस में भी हुईं तीन गिरफ्तारियां।

गाजीपुर

Updated: August 04, 2021 09:32:29 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क, गाजीपुर/मऊ. बांदा जेल में बंद मऊ से बसपा के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के परिवार व करीबियों पर योगी सरकार ने ताबड़तोड़ कार्रवाइयां की हैं। गाजीपुर पुलिस ने उनकी पत्नी और उनके साले की 2 करोड़ 18 लाख रुपये की सम्पत्ति कुर्क कर ली है। उधर मऊ पुलिस ने भी मुख्तार गैंग के 42 करीबियों पर कार्रवाई करते हुए एक साथ उनके 45 असलहों के लाइसेंस निलंबित कर दिये। मुख्तार का पत्नी का एक भाई भी गिरफ्तार हुआ है। एंबुलेंस मामले में भी मुख्तार के तीन गुर्गों को गिरफ्तार किया गया है।

mukhtar ansari

डुगडुगी बजाकर हुई बंगले की कुर्की
पुलिस की लिस्ट के अनुसार मुख्तार अंसारी की पत्नी अफशां अंसारी और उनके दो भाई अनवर शहजाद व आतिफ रजा उर्फ शरजील आईएस 191 गैंग के सदस्य हैं। इनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई हो रही है। गाजीपुर के सैय्यदबाड़ा मुहल्ला स्थित मुख्तार साले आतिफ रजा उर्फ शरजील के बंगले पर पहले डुगडुगी बजवाकर कुर्की की मुनादी कराई गई। उसके बाद एक-एक कमरा और मेन गेट को सील कर बंग्ले पर कुर्की कार्रवाई का नोटिस चिपका दिया गया। बंग्ला 742.88 वर्गमीटर में बना है और इसकी कीमत 1 करोड़ 18 लाख रुपय के आसपास है। इसके अलावा अफशां अंसारी का लखनऊ के गोमती नगर में एक करोड़ का फ्लैट भी कुर्क हुआ।

45 शस्त्र लाइसेंस निलंबित

मऊ पुलसि की कार्रवाई में मुख्तार गैंग के करीबी दक्षिण टोला थाना क्षेत्र के 33, कोतवाली के 9 और सराय लखंसी के 3 असलहा लाइसेंस निलंबित किये। इनके असलहे जमा कराए जा रहे हैं। ये लोग कारतूस का हिसाब नहीं दे पाए। ये कार्रवाई शस्त्र नियमों के उल्लंघन में की गई है। एक साथ इतने असलहों के लाइसेंस निलंबित करने की यह अपनी तरह की सबसे बड़ी कार्रवाई कही जा रही है। उधर इसके एक दिन पहले ही मऊ पुलिस ने मुख्तार अंसारी के साले अनवर शहजाद को गिरफ्तार कर लिया। उसपर 25 हजार का ईनाम घोषित था और वह कई मामलों में वांछित था।

एंबुलेंस केस में तीन गिरफ्तार
उधर एंबुलेंस केस में भी पुलिस काे बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने मुख्तार के तीन ईनामिया गुर्गों को गिरफ्तार किया है। इनपर भी 25-25 हजार का ईनाम घोषित था। इनमें से एक एंबुलेंस चलाता था जबकि दो हमेशा साथ में रहते थे।

By Alok Tripathi

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

World Economic Forum 2022: दावोस एजेंडा के शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदी, भारत बना दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा फार्मा प्रोड्यूसरयूएई के अबू धाबी एयरपोर्ट पर बड़ा हमला, दो भारतीयों समेत तीन की मौतवैक्सीनेशन को लेकर बड़ा ऐलान, 12 से 14 साल तक के बच्चों को मार्च से लगेंगे टीकेPunjab Election 2022: पंजाब में चुनाव की तारीख टली, अब 20 फरवरी को होगी वोटिंग'किसी को जबरदस्ती नहीं लगाई कोरोना वैक्सीन ', केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में बतायाविधायक ने खड़े होकर कराई सड़कों की जांच, नमूने रखवा दिए एसडीएम ऑफिस मेंआखिर क्या है दलबदल कानून और क्यों पड़ी इसकी जरूरत, जानिए सब कुछऐसा क्या हुआ की सीएम योगी आदित्यनाथ का यह कैबिनेट मंत्री वर्षों बाद अचानक छानने लगे जलेबी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.