BJP सरकार से विपक्षी विधायक इस कदर हुए नाराज, हथेली काट खून से लिखने लगे नारे

यह सब सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी में होता रहा, टीवी वाले इसे रिकार्ड करते (Congress MLA Rupjyoti Kurmi Protest) रहे...

By: Prateek

Published: 03 Dec 2019, 07:27 PM IST

(गुवाहाटी,राजीव कुमार): असम की बीजेपी सरकार के रवैये से गुस्साए कांग्रेस विधायक ने ऐसे तरीके से विरोध जताया जिसे देखकर अन्य नेता हैरत में पड़ गए। कांग्रेस विधायक रुपज्योति कुर्मी ने विधानसभा में अपनी हथेली को धारदार हथियार से कट लगाने के बाद खुन की निकलती धार से नारे लिखे।

 

यह भी पढ़ें: छोटी उम्र के बच्चे बना रहे बड़े रिकॉर्ड, इनकी प्रतिभा के आप भी हो जाएंगे कायल

विधायक रुपज्योति कुर्मी सदन के मुख्य द्धार पर बैठ गए, ब्लेड निकालकर हथेली काटी और पोस्टर पर नारे लिखने शुरु किए। उन्होंने कहा कि भाजपानीत सरकार विभिन्न उत्सव मना रही है लेकिन बंद पड़ी दो पेपर मिलों, बंद हुए कई चाय बागानों और खाद कारखानों के बंद होने के खिलाफ कुछ नहीं कर रही है। उन्होंने लिखा कि हाथीमीरा चाय बागान, नामरुप खाद कारखाना असम में स्थित है। ये उद्योग हमारी साख और पहचान है। इन उद्योगों से जुड़े तथा असम में रहने वाले लोगों की आय यानि हमारे असम का भविष्य। जाति, जमीन और नींव नहीं रहेगी। असमिया के सम्मान और भविष्य बेचने नहीं दिया जा सकता। जय आई असम।


यह भी पढ़ें: झारखंड चुनाव: पत्नी के सामने खड़ी थी भाभी, तो पति ने भी भर दिया परचा, दिलचस्प हुआ मुकाबला

ये सब सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी में होता रहा। टीवी वाले इसे रिकार्ड करते रहे। फिर विधानसभा में स्थित मेडिकल यूनिट को खबर दी गई तो उन्होंने आकर कुर्मी को प्राथमिक उपचार दिया। उनके हाथ में तीन टांके आए हैं। नेता प्रतिपक्ष देवव्रत सैकिया ने कहा कि कांग्रेस विधायक दल का यह फैसला नहीं था। कुर्मी को अपने जीवन को खतरे में डालकर ऐसा नहीं करना चाहिए था।

 

यह भी पढ़ें: इंतजार में बैठी रहीं दुल्हन नहीं आई बारात, फोन पर दूल्हे ने कही चौंका देने वाली बात

बाद में सदन में भाजपा के विधायक पद्म हजारिका ने यह मुद्दा उठाया और कहा विधायकों की सुरक्षा खतरे में है। आप मोबाइल और अन्य सामाग्रियां नहीं लाने देते वहीं विधायक कुर्मी ब्लेड कैसे ले आए। यह सुरक्षा चूक का बड़ा मामला है। इस पर कड़ा कदम उठाया जाए।सदन में इसको लेकर कुछ देर हंगामा चला। कुर्मी इलाज के बाद सदन में मौजूद थे।

 

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार नहीं, ये अंबानी-अडाणी की सरकार है-राहुल गांधी

अध्यक्ष हितेंद्र नाथ गोस्वामी ने इस मामले पर सभी विधायक दल की नेताओं की बैठक बुलाई। बैठक में पूरे मामले पर चिंता जताई गई। साथ ही पूरे मामले की जांच का आदेश दिया। वहीं पुलिस आयुक्त दीपक कुमार ने कहा कि इस मामले में वे अध्यक्ष के निर्देश के लिए इंतजार कर रहे हैं।

असम की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: Video: युवक की मौत पर MLA ने दिया ऐसा बयान, लोगों ने कर दिया हमला, कार लेकर भागे नेता जी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned