तीन दिन की लगातार बारिश से गांव बने तालाब, नाव से घूमते है यहां लोग, देखें वीडियो

तीन दिन की लगातार बारिश से गांव बने तालाब, नाव से घूमते है यहां लोग, देखें वीडियो

Gaurav Sen | Publish: Sep, 03 2018 05:32:58 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

तीन दिन की लगातार बारिश से गांव बने तालाब, नाव से घूमते है यहां लोग, देखें वीडियो

ग्वालियर/शिवपुरी । तीन दिन से हो रही बारिश से शिवपुरी शहर ही नहीं जिला जलमग्र हो गया। सबसे अधिक हालात बदरवास व रन्नौद क्षेत्र में बिगड़े, जहां नदी-नालों का पानी लोगों के घरों में भर गया और एक 75 वर्षीय वृद्धा को नाव के सहारे बाहर निकाला गया। घरों में पानी भर जाने से ग्रामीणों को बड़ा नुकसान भी झेलना पड़ा। जिले में औसत सामान्य बारिश का आंकड़ा भी रविवार को पार हो गया, जबकि 48 घंटे में मड़ीखेड़ा डैम का लेवल 2.60 मीटर बढ़ गया। मड़ीखेड़ा का वाटर लेवल रविवार की शाम को 343.85 मीटर तक पहुंच गया, फुल लेवल 346.25 मीटर है ।

 

यह भी पढ़ें : देखें वीडियो : बारिश से रुकी रेलवे की रफ्तार, पानी में डूबा ट्रैक, बंद रहा ट्रेन का रूट, जानिए पूरी खबर......

 

लगातार हो रही बारिश से रन्नौद क्षेत्र में बाढ़ जैसे हालात निर्मित हो गए। नदी-नालों के उफनने से कई गांव में पानी लोगों के घरों में भर गया। रन्नौद की निचली बस्तियों के घरों में पानी भर जाने से लोगों का लाखों का रुपए का राशन सहित अन्य जरूरी सामग्री पानी में बह जाने या भीग जाने से बड़ा नुकसान हो गया। चौतरफा पानी से घिरे लोगों का कहना है कि अब तो पानी ने नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया है और यदि हालात ऐसे ही रहे तो अभी गृहस्थी बर्बाद हुई है, फिर जान के लाले पड़ जाएंगे। रपटे आदि पर पानी का तेज बहाव होने से आवागमन ठप होने से कई जगह लोग पानी में घिरकर रह गए हैं। लुकवासा के केलधार व टोरिया के बीच तेरहवीं से वापस आ रहे ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार लोग पानी से उस समय घिर गए, जब नाले में तेज बहाव से पानी आ गया। ग्रामीणों ने बमुश्किल सुरक्षित निकाला जा सका, जबकि पानी भर जाने से ट्रैक्टर वहीं बंद होकर रह गया ।

 

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : SC/ST एक्ट का विरोध, दिखाए काले झंडे, देखें वीडियो

 

करैरा में 8 साल बाद हुई ऐसी बारिश

करैरा नगर में बीते शुक्रवार की शाम से शुरू हुई बारिश रविवार को तीसरे दिन भी जारी रही। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस बार जो बारिश हो रही है, उससे पिछले 8 साल पूर्व हुई जोरदार बारिश का रिकार्ड टूटता दिखाई दे रहा है। इससे पूर्व वर्ष 2010 में ऐसी ही बारिश करैरा में हुईथी। बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। करैरा की महुअर नदी पर बने ब्रिटिश शासन के पुल के सभी 12 द्वार भी चलने लगे हैं। करैरा नगर का वर्षों पुराना फूटा तालाब, वर्षा मापी यंत्र माना जाता है। इस वर्ष पूरे महीने फूटा तालाब ओवर फ्लो रहा। करैरा के एडवोकेट बृजेश श्रीवास्तव का कहना है कि करैरा के फूटा तालाब को हम वर्षामापी यंत्र मानते हैं और उसे देखकर लग रहा है कि इस बार झमाझम बारिश होगी ।

 

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : भोपाल से वर्दी खरीद कर बना फर्जी आईपीएस, टीआई को लगाई फटकार, देखें वीडियो

 

रन्नौद क्षेत्र में कुछ ऐसे बिगड़े हालात

रन्नौद-अकाझिरी रोड पर धंधेरा गांव की नदी में करीब 15 फीट पानी ऊपर होने से गांव में हालात बिगड़ गए। ग्रामीणों ने बताया कि 20 साल पहले मंदिर तक नदी का पानी आया था और अब इस बार आया है। ग्राम हरीपुर, लगदा, लालपुर, वेदमऊ, राजापुर पहाड़ा, सीतानगर, गुरुकुदवाया, वीरा में चौतरफा पानी ही पानी हो गया। घरों में पानी भर जाने से जहां लोगों की गृहस्थी बर्बाद हो गई, वहीं बीमार लोगों को भी गांव से बाहर नहीं ला पा रहे ।
पहुंचे विधायक, बुलाए जिम्मेदार

 

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : शहर व अंचल में झमाझम बारिश, सिंध सहित कई नदी उफान पर, मौसम वैज्ञानिक ने भी की बड़ी भविष्यवाणी, देखें वीडियो

 

रन्नौद क्षेत्र में पानी से बिगड़े हालातों को देखने कोलारस विधायक महेंद्र यादव पहुंचे तथा उन्होंने स्थिति अधिक खराब देख एसडीएम को हालातों से अवगत कराया। नायब तहसीलदार राजीव भदौरिया अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पूर्व सरपंच नाथूराम केवट ने अपनी नाव के सहारे वृद्धा मुलियाबाई को बाहर निकलवाया ।

 

यह भी पढ़ें : VIDEO : सीतासागर में मिली लाश, देखें पूरी खबर.....

 

नाव से निकाली वृद्धा, टूटे घर

रन्नौद के कुशवाह मौहल्ले में घरों में पानी भर जाने से 75 वर्षीय वृद्धा मुलियाबाई कुशवाह, को स्थानीय लोगों ने नाव के सहारे सुरक्षित बाहर निकाला। जबकि घरों में पानी भर जाने से आधा सैकड़ा से अधिक परिवारों की गृहस्थी बर्बाद हो गई। रन्नौद के ही रमेश जाटव, पप्पू जाटव, कैलाश कुशवाह, समर्थ कुशवाह, सुखवीर जाटव, अरविंद ओझा, सौरभ राय, हेमू जैन, पारस जैन, चंदन जैन, हरवीर कुशवाह के घर व पाटौर टूट गईं, जिससे अधिक नुकसान हो गया ।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned