बड़ी खबर : इस बार शनिश्चरी अमावस्या पर है यह योग,इन राशियों वाले हो जाएंगे मालामाल

चैत्र नवरात्र के आरंभ से एक दिन पहले सूर्य पुत्र शनिदेव की आराधना की जाएगी। १७ मार्च शनिवार को वर्ष 2018 की पहली शनिश्चरी अमावस्या पड़ रही है

By: Gaurav Sen

Published: 13 Mar 2018, 01:11 PM IST

ग्वालियर। चैत्र नवरात्र के आरंभ से एक दिन पहले सूर्य पुत्र शनिदेव की आराधना की जाएगी। १७ मार्च शनिवार को वर्ष 2018 की पहली शनिश्चरी अमावस्या पड़ रही है, जो अमृत योग में मनाई जाएगी। यह दिन शनि दोष,काल सर्प दोष,पितृ दोष,चंडाल योग से मुक्ति पाने के लिए सबसे उत्तम माना गया है।

इनसाइड न्यूज: जीवाजी के प्रोफेसरों ने एजूकेशनल टूर के नाम पर डकारे १ करोड़, छात्रों के हाथ न आया कुछ

इस दिन शनि मंदिरों में जप-तप कर शनि भगवान की उपासना की जाएगी। शनिश्चरी अमावस्या का संयोग तब बनता है जब अमावस्या शनिवार के दिन पड़े। ज्योतिषाचार्य सतीश सोनी का कहना है कि सूर्यदेव के पुत्र शनिदेव को खुश करने के लिए शनिश्चरी अमावस्या के दिन तिल, जौ और तेल का दान करना अत्यंत लाभकारी माना जाता है। शनिश्चरी अमावस्या पर दान करने से मनोवांछित फल मिलता है। ज्योतिष शास्त्र में भी शनिश्चरी अमावस्या का विशेष महत्व है। जिन राशियों के जातकों के लिए शनि अशुभ है वे इस विशेष संयोग पर शनिदेव की पूजा कर ढैया,साढ़े साती की दशा से मुक्ति पा सकते हैं।

चाइना की धमक: ग्वालियर में हुई चाइना की घुसपैठ, होश उड़ा देने वाली है ये सच्चाई

 

ऐसे करें शनिदेव की पूजा
आचार्य वाचस्पति शास्त्री का कहना है कि इस दिन शनिदेव को तेल से अभिषेक कर सुगंधित इत्र, इमरती का भोग लगाने, नीला फूल चढ़ाने के साथ मंत्र का जाप करने से शनि की पीड़ा से मुक्ति मिल सकती है। इस दिन शनि मंदिर में जाकर शनि देव के श्री विग्रह पर काला तिल, काला उड़द, लोहा, काला कपड़ा, नीला कपड़ा, गुड़, नीला फूल, अकबन के फू ल पत्ते अर्पण करना चाहिए। इसके अलावा काले रंग के श्वान को तेल चिपड़ी हुई रोटी खिलाएं। ग्रह शांति के लिए शनिश्चरी अमावस्या के दिन सुबह जल्दी स्नान आदि से निवृत होकर सबसे पहले अपने इष्टदेव, गुरु और माता-पिता का आशीर्वाद लें। सूर्य आदि नवग्रहों को नमस्कार करते हुए श्री गणेश भगवान का पंचोपचार, वस्त्र, चंदन, फूल, धूप, दीप से पूजन करें।

क्यों सो रहे हैं जिम्मेदार: ये शहर बीमार होने वाला है बहुत बीमार, कारण सुन हैरान रह जाऐंगे आप

इन राशियों वालों की चमकेगी किस्मत
पंडित नरेंद्रनाथ पांडेय के मुताबिक शनिश्चरी अमावस्या मेष,मिथुन राशि के जातकों के लिए लाभ दायक रहेगी। कर्क, सिंह, कन्या राशि वालों के लिए शुभ समाचार, यात्रा, निर्माण कार्य लेकर आएगी। तुला राशि वालों को स्वास्थ्य में हानि रहेगी। वृश्चिक राशि वालों को रुके कार्यों में सफलता मिलेगी, धन व स्वास्थ्य लाभ होगा। मकर व कुं भ वालों के लिए धन हानि एवं स्वास्थ्य खराब होने के योग रहेंगे। मीन राशि वालों को धन की प्राप्ति होगी।

यह भी पढ़ें: बिलौआ से इटावा तक की दूरी 130 किमी, गिट्टी की ITP में दिखा रहे 1450 किमी

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned