Harsingar Benefits: जानिए हरसिंगार कितने फायदेमंद होते है बुखार के लिए

Harsingar Benefits: हरसिंगार के फूलों से लेकर पत्तियों, छाल एवं बीज भी बेहद उपयोगी हैं। इसकी चाय न केवल स्वाद में बेहतरीन होती है बल्कि सेहत के गुणों से भी भरपूर है।

By: Roshni Jaiswal

Updated: 06 Oct 2021, 07:11 PM IST

नई दिल्ली। Harsingar Benefits: हरसिंगार को वनस्पति शास्त्र में निक्टेंथिस आर्बोर्ट्रिस्टिस नाम से जाना जाता है। रातरानी, पारिजात, नाइट जैसमीन जैसे नामों से आम लोगों के बीच जाना पहचाना जाने वाला हरसिंगार औषधीय गुणों से भरपूर होता है। हरसिंगार का जिक्र कई प्राचीन ग्रंथों में मिलता है। इसके फूल अत्यधिक सुगंधित, छोटे पंखुड़ियों वाले और सफेद रंग के होते हैं। हरसिंगार का पौधा झाडीदार होता है।

हरसिंगार के फूलों से लेकर पत्तियां, छाले एवं बीज भी बेहद उपयोगी है। इसकी चाय, न केवल स्वाद में बेहतरीन होती है बल्कि सेहत के गुणों से भरपूर है। इस चाय को आप अलग अलग तरीके से बना सकते हैं और सेहत और सौंदर्य के कई फायदे पा सकते हैं। आइए जानते हैं हरसिंगार की चाय बनाने की विधि और फायदे।

हरसिंगार की चाय बनाने की विधि

  • हरसिंगार की चाय बनाने के लिए इसकी दो पत्तियां और एक फूल के साथ तुलसी की कुछ पत्तियां लीजिए और इन्हें एक गिलास पानी में उबालें। जब यह अच्छी तरह से उबल जाए तो इसे छान कर गुनगुना या ठंडा करके पी लें। आप चाहे तो स्वाद के लिए शहद या मिश्री भी डाल सकते हैं।
  • हरसिंगार के 2 पत्ते और 4 फूलों को पांच से 6 कप पानी में उबालकर, 5 कप चाय आसानी से बनाई जा सकती है। इसमें दूध का इस्तेमाल नहीं होता। यह स्फूर्तिदायक होती है।

हरसिंगार के फायदे

  • बुखार के प्राकृतिक उपचार में हरसिंगार का प्रयोग किया जाता है। किसी भी प्रकार के बुखार में हरसिंगार की पत्तियों की चाय पीना बेहद लाभप्रद होता है। डेंगू से लेकर मलेरिया या फिर चिकनगुनिया तक, हर तरह के बुखार को खत्म करने की क्षमता इसमें होती है।
  • हृदय रोगों के लिए हरसिंगार का प्रयोग बेहद लाभकारी है। इसके 15 से 20 फूलों या इसके रस का सेवन करना हृदय रोग से बचाने में कारगर है।
  • हरसिंगार में घावों को भरने की अद्वितीय क्षमता होती है। इसके पत्तों को पीसकर उसका लेप चोट पर लगाने से घाव जल्दी भरते हैं।
  • हरसिंगार की पत्तियों को पीसकर शहद के साथ सेवन करने से सूखी खांसी में आराम मिलता है। इसके अलावा आप इसकी पत्तियों को चाय के साथ उबालकर भी पी सकते हैं।
  • हरसिंगार का पेड़ डायबिटीज में बहुत लाभदायक होता है। 10-30 मिली हरसिंगार के पत्ते का काढ़ा बना लें। इसका सेवन करें। इससे डायबिटीज रोग में लाभ होता है।
  • हरसिंगार एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है। यह दर्द कम करता है। कई तरह की दर्द निवारक आयुर्वेदिक दवाओं में हरसिंगार के ऑयल का इस्तेमाल किया जाता है।
  • इसके एक बीज का सेवन प्रतिदिन करने से बवासीर रोग ठीक हो जाता है। इसके बीज का लेप बनाकर गुदा पर लगाएंगे तो इससे बावसीर से राहत मिलती है।
Roshni Jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned