आंखों में लेंस का इस्तेमाल करने से तेजी से फैलता है Coronavirus, जानकारों मे बताया खतरा

Highlights

-दुनिया भर में इस महामारी ने अपना खौफनाक रूप ले लिया है
-कोरोना वायरस से दुनिया को बचाने के लिए साइंस के क्षेत्र से जुड़े लोग प्रत्यक्ष और अप्र्रत्यक्ष तरीकों पर काम करने में जुटे हैं
-कई देशों के साइंटिस्ट इस बीमारी से दुनिया को बचाने के लिए दिन-रात रिसर्च में जुटे हुए हैं

By: Ruchi Sharma

Published: 29 Mar 2020, 12:43 PM IST

नई दिल्ली. कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। पूरी दुनिया में लोग इसके खौफ में हैं। दुनिया भर में इस महामारी ने अपना खौफनाक रूप ले लिया है।
कोरोना वायरस से दुनिया को बचाने के लिए साइंस के क्षेत्र से जुड़े लोग प्रत्यक्ष और अप्र्रत्यक्ष तरीकों पर काम करने में जुटे हैं। कई देशों के साइंटिस्ट इस बीमारी से दुनिया को बचाने के लिए दिन-रात रिसर्च में जुटे हुए हैं। कई शोध हो रहे हैं। वहीं एेसी जानकारी भी जुटाई जा रही है कि कोरोना और किन-किन माध्यम से फैल सकता है? वहीं अमेरिकी नेत्रविज्ञान अकादमी ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। अकादमी के जानकारों ने कॉन्टेक्ट लेंस पहनने पर आपत्ति जताई है। उनका मानना है कि चश्मे की तुलना में कॉन्टेक्ट लेंस के जरिए वायरस ज्यादा तेजी से फैल सकता है।

लेंस का इस्तेमाल करने वालों के लिए यह खबर चौंका देने वाली है। अगर आफ कॉन्टेक्ट लेंस का इस्तेमाल करते हैं तो आज ही उतार कर रख दे। विशेषज्ञों ने
विशेष सलाह देते हुए बताया कि आंखें शरीर का बहुत संवेदनशील हिस्सा हैं। लेंस वैसे भी हमारी आंखों के लिए खतरनाक है। इसके इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। अमेरिकी नेत्रविज्ञान अकादमी के मुताबिक चश्मा पहनने से चेहरे को छूने की प्रवृत्ति कम हो जाती है। जबकि कॉन्टेक्ट लेंस के इस्तेमाल से आंख और चेहरे की ज्यादा छूने की संभावना बढ़ जाती है। कॉन्टेक्ट लेंस लगाने वाला व्यक्ति दिन में कम से कम दो बार लेंस को बदलता है।

वायरस को फैलने से रोकने के लिए चश्मा, लेंस की तुलना में ज्यादा असरदार रहेगा। हालांकि ऐसा कम देखा गया है कि मुंह और नाक की तुलना में आंख से इंफेक्शन फैला हो। ऐसा जरूरी नहीं है कि केवल आंख से ही कोरोना या कोई वायरस फैल जाए।

अगर आप लेंस इस्तेमाल करते हैं तो जानिए क्या करना चाहिए..

संक्रमण का खतरा

कान्टैक्ट लेंस लगाते समय हाथों को अच्छी तरह से साफ करके तौलिए से पोछ लें। इसके बाद आंखों पर लेंस लगाने से पहले लेंस को सल्यूशन से जरूर साफ कर लें। इसी तरह लेंस का निकालने के बाद भी उसे अच्छी तरह से साफ करने के बाद ही डिब्बें में रखें। इससे आप आंखों में होने वाले संक्रमण से बचा जा सकेगा।

पलकों में सूजन

कभी-कभी जब आंखों में लेंस लगाते हैं तो आंखों की पलकों पर सूजन आ जाती है जिसकी वजह से लैंस लगना मुश्किल हो जाता है। ध्यान रहे जब तक यह सूजन चली नहीं जाती तब तक लेंस का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned