scriptEk Ped Maa Ke Naam: 51 लाख पौधरोपण पर सुमित्रा महाजन ‘ताई’ का तीखा तंज, पत्र लिखकर केंद्रीय मंत्री पर साधा निशाना | Ek Ped Maa Ke Naam Sumitra Mahajan targeted forest minister bhupendra yadav by letter to mayor indore | Patrika News
इंदौर

Ek Ped Maa Ke Naam: 51 लाख पौधरोपण पर सुमित्रा महाजन ‘ताई’ का तीखा तंज, पत्र लिखकर केंद्रीय मंत्री पर साधा निशाना

Ek ped maa ke naam: मध्य प्रदेश में एक पेड़ मां के नाम महाअभियान के तहत 51 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य पूरा कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का तैयारी, सीएम मोहन यादव और केंद्रीय वन मंत्री भूपेंद्र यादव करेंगे अभियान की शुरुआत, जानें महापौर को पत्र लिखकर क्या बोलीं पूर्व सांसद सुमित्रा महाजन

इंदौरJul 07, 2024 / 11:18 am

Sanjana Kumar

Sumitra Mahajan
Ek Ped Maa Ke Naam: केंद्रीय गृह मंत्री की मौजूदगी में इंदौर 11 लाख पौधे लगाने का रिकॉर्ड बनाने जा रहा है। निगम तैयारी कर रहा है। इससे पहले पूर्व सांसद सुमित्रा महाजन ने अभियान पर तीखा तंज कसा है। उनका कहना है कि पहले भी शहर में लाखों पौधे लगाने की बात हुई, उनका एक ऑडिट हम कर सकते हैं या? कंधे पर बंदूक तो महापौर के रखी गई लेकिन निशाना मंत्री पर साधा है।
सुमित्रा महाजन (Sumitra Mahajan) ने महापौर पुष्यमित्र भार्गव (Mayor Pusyamita Bhargava) को पत्र लिखकर राजनीतिक गलियारों में हलचल पैदा कर दी है। पत्र के कई मायने निकाले जा रहे हैं। 7 जुलाई को एमपी सीएम डॉ. मोहन यादव और केंद्रीय वन मंत्री भूपेंद्र यादव (Union forest minister Bhupendra Yadav) 51 लाख पौधे लगाने के अभियान की शुरुआत करने वाले हैं तो 14 जुलाई को गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में 11 लाख पौधे लगाने हैं।

पहले लगाए लाखों पौधे उनकी सफलता का एक ऑडिट हम कर सकते हैं क्या?

सुमित्रा महाजन ने पत्र में लिखा कि धरती मां की सेवा या पर्यावरण संरक्षण के लिए कई लाख पौधे लगाने (Ek ped maa ke naam abhiyan) का लक्ष्य इंदौर यानी आप सबने तय किया है। यह अच्छी बात है। इतना बड़ा लक्ष्य जल्दबाजी में संभव नहीं है। ये काम आने वाली पीढ़ियों तक का जीवन समृद्घ करने वाला बड़ा कार्य है। पहले भी कई बार लाखों पौधे लगाने की बात हुई, लगाए गए लेकिन उनकी सफलता का एक ऑडिट हम कर सकते हैं क्या? इनमें से कितने प्रतिशत पौधे पनपे? क्या खामी या कारण रहे कि वे पौधे नहीं पनप पाए?

पितृ पर्वत पर इशारा

Pitra parvat
पित्र पर्वत पर रोंपे गए थे पौधे, आज यहां है हनुमान मंदिर
ताई ने लिखा कि जहां भी पौधे लगाए जाएं, वहां एक या अधिक संस्थाओं को जिम्मेदारी दे सकते हैं, लेकिन स्थायी या अस्थायी (धर्मस्थल) निर्माण की अनुमति नहीं होनी चाहिए। गौरतलब है कि महापौर रहते कैलाश विजयवर्गीय ने पितृ पर्वत पर पौधरोपण की शुरुआत की थी, जहां आज हनुमानजी का भव्य मंदिर स्थापित हो गया है।

Hindi News/ Indore / Ek Ped Maa Ke Naam: 51 लाख पौधरोपण पर सुमित्रा महाजन ‘ताई’ का तीखा तंज, पत्र लिखकर केंद्रीय मंत्री पर साधा निशाना

ट्रेंडिंग वीडियो