नई ब्रॉडगेज लाइन पर गुड्स ट्रेन

एनटीपीसी में कोयला लेकर पहुंची ट्रेन

By: हुसैन अली

Published: 14 Aug 2019, 09:30 AM IST

इंदौर.रतलाम-खंडवा गेज कन्वर्जन प्रोजेक्ट में महू-खंडवा मीटरगेज लाइन को ब्रॉडगेज में बदलने का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। इस कड़ी में खंडवा से निमाडख़ेड़ी तक ब्रॉडगेज लाइन सोमवार से शुरू कर दी गई है। हालांकि इस लाइन को फिलहाल एनटीपीसी के लिए शुरू किया गया, जिसका उपयोग गुड्स ट्रेन के संचालन के लिए किया जा रहा है। सोमवार दोपहर इस ट्रैक पर पहली गुड्स ट्रेन को रवाना किया गया।

must read : दर्शन के लिए उमड़े श्रद्धालु, जगह-जगह हुआ स्वागत

छह घंटे में ट्रेन एनटीपीसी प्लांट पहुंची। जुलाई माह में मथेला से निमाडख़ेड़ी स्टेशन तक मुख्य सरंक्षा आयुक्त ने निरीक्षण किया था। इसके बाद ट्रैक को गुड्स ट्रेन के संचालन के लिए अनुमति मिली थी। उल्लेखनीय है कि 2016 में सनावद-खंडवा रेलखंड को ब्रॉडगेज लाइन में तब्दील करने के लिए बंद कर दिया गया था। इस ट्रैक के शुरू होने के बाद मार्च 2020 तक खंडवा-सनावद रेल लाइन भी यात्रियों के लिए शुरू कर दी जाएगी।

must read : RAKSHA BANDHAN : अब राखी में लगवाएं भाई का फोटो, मार्केट में भाई-बहन के लिए आए कुछ यूनीक गिफ्ट्स

सोमवार को मथेला-निमाड़ खेड़ी स्टेशन से पहली मालगाड़ी एनटीपीसी प्लांट रवाना की गई। महू-खंडवा सेक्शन में आमान परिवर्तन के बाद पहली ट्रेन चली है। खंडवा जिले के मथेला स्टेशन से पहली मालगाड़ी सोमवार दोपहर 12 बजे माथेला से एनटीपीसी के लिए रवाना हुई। 58 कोच के इस रैक में चार हजार टन कोयला भरा था। शाम 6.20 बजे मालगाड़ी प्लांट पहुंची। इस गुट्स ट्रेन की स्पीड 20 किमी प्रति घंटा ही रखी गई। बता दें कि इससे पहले इस प्लांट में कोयले को 150 किमी दूर नेपानगर से लाया जाता था। इसी कारण इस लाइन को तेजी से पूरा किया गया है।

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned