scriptNow The War Broke Out Among The City Congress Spokespersons | Indore News : अब शहर कांग्रेस प्रवक्ताओं में छिड़ गई जंग | Patrika News

Indore News : अब शहर कांग्रेस प्रवक्ताओं में छिड़ गई जंग

एक शहर अध्यक्ष का खास तो दूसरा वरिष्ठ विधायक का करीबी, सोशल मीडिया पर टीका टिप्पणी से अनुशासन तार-तार

इंदौर

Published: June 24, 2022 11:30:55 am

इंदौर. अनुशासन क्या होता है, यह शायद कांग्रेसी नहीं जानते हैं इसीलिए शहर कांग्रेस कमेटी में आए दिए किसी न किसी बात को लेकर पदाधिकारियों और नेताओं में विवाद होते रहते हैं। नेताओं में तू-तू-मैं-मैं अलग होती रहती है। विवाद इतने बढ़ जाते हैं कि सोशल मीडिया से लेकर सार्वजनिक रूप से सडक़ पर आ जाते हैं। चुनावी मौसम में अब शहर कांग्रेस के दो प्रवक्ताओं में जंग छिड़ गई है। इसमें से एक शहर अध्यक्ष का खास है तो दूसरा वरिष्ठ विधायक का करीबी। दोनों के बीच विवाद की वजह वर्चस्व है, जो सोशल मीडिया पर टीका टिप्पणी के रूप में दिख रहा और अनुशासन तार-तार हो रहा है।
Indore News : अब शहर कांग्रेस प्रवक्ताओं में छिड़ गई जंग
Indore News : अब शहर कांग्रेस प्रवक्ताओं में छिड़ गई जंग
एक तरफ जहां शहर में कांग्रेस का कमजोर संगठन है, वहीं पदाधिकारियों और नेताओं में आए दिन विवाद आम हैं। यह देखते हुए शहर कांग्रेस कमेटी ने अनुशासन समिति बनाई ताकि विवाद निबटाने के साथ अनुशासनहीनता करने वालों पर कार्रवाई की जा सके। समिति बनने के बाद कई नेताओं ने अनुशासनहीनता की, लेकिन किसी पर कार्रवाई नहीं हुई। कारण पार्टी की छवि खराब करने वाले नेताओं के नाम समिति के पास न जाना बताया जा रहा है। अनुशासन तोडऩे वाले नेताओं पर कार्रवाई न होने का ही परिणाम है कि आपस में भिडऩे वाले नेता खुद के साथ पार्टी की बदनामी कर रहे हैं।
ताजा मामला शहर कांग्रेस कमेटी के दो प्रवक्ताओं का है। इनमें से एक शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के खास संजय बाकलीवाल तो दूसरे वरिष्ठ विधायक सज्जन सिंह वर्मा के करीबी विवेक खंडेलवाल हैं। नगर निगम चुनाव और वर्चस्व को लेकर दोनों के बीच जंग छिड़ी हुई है, जो अब सोशल मीडिया पर टीका-टिप्पणी तक पहुंच गई है। सज्जन के करीबी प्रवक्ता खंडेलवाल ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा है कि संजय बाकलीवाल नाम के व्यक्ति का एक ही काम, शिकार ढूंढ़ो और ये रोज नए शिकार ढूंढ़ता है। इससे सावधान रहें। बाकलीवाल को अपने कार्यालय के आसपास भी फटकने मत देना पनौती है। गौरतलब है कि प्रवक्ता बाकलीवाल की कार्यशैली को लेकर अन्य कई नेता भी कई बार उंगली उठा चुके हैं। साथ ही इनका गांधी भवन पर पूरा कब्जा अलग रहता है। इनके व्यवहार की वजह से कई नेताओं ने गांधी भवन की सीढिय़ां चढऩा तक बंद कर दिया।
संगठन को कर दिया कमजोर

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने एक व्यक्ति एक पद का नियम बना दिया है, लेकिन बाकलीवाल तीन-तीन पद पर जमे हैं। गांधी भवन पर इनका कब्जा रहता है और कार्यालय आने वाले कार्यकताओं को कुछ नहीं समझते हैं। चुनाव चल रहा है। उनसे जानकारी मांगी जाती है तो आनाकानी करने के साथ इनकार कर देते हैं। उनके इस व्यवहार को लेकर अध्यक्ष से भी शिकायत की गई है ताकि कांग्रेस संगठन को कमजोर करने वाले पदाधिकारियों पर कार्रवाई हो।
- विवेक खंडेलवाल, शहर कांग्रेस प्रवक्ता

अध्यक्ष के समक्ष आकर करें बात

मेरे बारे में सोशल मीडिया पर किसने क्या लिखा, मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है। लिखने वाले लिखते रहें। मुझे कांग्रेस संगठन ने जो जिम्मेदारी है, उसे मैं ईमानदारी से निभा रहा हूं। किसी को नाराजगी है तो सीधे शहर अध्यक्ष के समक्ष आकर बात करे।
- संजय बाकलीवाल, शहर प्रवक्ता

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.