scriptWhy BJP Celebrating By Reducing OBC Reservation ? | Indore News : उठाया सवाल, ओबीसी आरक्षण कम करवाकर किस बात का जश्न मना रही भाजपा | Patrika News

Indore News : उठाया सवाल, ओबीसी आरक्षण कम करवाकर किस बात का जश्न मना रही भाजपा

कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के प्रदेशाध्यक्ष राजमणि पटेल ने खड़े किए कई प्रश्न, नगरीय निकाय चुनाव को लेकर बनाई रणनीति

इंदौर

Published: May 23, 2022 11:05:10 am

इंदौर. मध्य प्रदेश में 15 महीने रही कमल नाथ सरकार ने प्रदेश की आबादी के मान से पिछड़ा वर्ग के उत्थान के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा के साथ नगर निकाय व पंचायतों का नया परिसीमन किया था। पिछले दरवाजे से छल-बल से आई भाजपा सरकार ने जहां परिसीमन के आदेश निरस्त किए, वहीं पिछड़ा वर्ग को दिए गए 27 प्रतिशत आरक्षण को भी कानूनी दांव-पेंच में उलझा दिया और आरोप कांग्रेस के सिर मढ़ रही है। सर्वोच्च न्यायालय में प्रदेश सरकार द्वारा पिछड़ा वर्ग की ओर से सही पक्ष नहीं रखने के चलते 27 प्रतिशत आरक्षण को 14 प्रतिशत करवा कर भाजपा नेता अपना स्वागत-सत्कार करवा कर जश्न मना रहे हैं। जो भाजपा के लिए शर्म की बात होना चाहिए। पिछड़ा वर्ग का आरक्षण कम करवाकर भाजपा किस बात का जश्न मना रही है?
Indore News : उठाया सवाल, ओबीसी आरक्षण कम करवाकर किस बात का जश्न मना रही भाजपा
Indore News : उठाया सवाल, ओबीसी आरक्षण कम करवाकर किस बात का जश्न मना रही भाजपा
यह सवाल कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के प्रदेशाध्यक्ष राजमणि पटेल ने कल उस समय उठाए, जब आगामी नगरीय निकाय चुनाव को लेकर वे मूसाखेड़ी में वार्ड-51, 52 व 54 की बैठक ले रहे थे। इसमें उन्होंने प्रदेश की भाजपा सरकार पर कई सवालिया निशान लगाए और कहा कि संघ के एजेंडे के तहत प्रदेश की सरकार दलित, आदिवासियों के साथ पिछडों से उनका अधिकार छीनने में कोई कसर नही छोड़ रही। बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, शासकीय भ्रष्टाचार व जनता से जुड़े मुद्दों से जनता का ध्यान कैसे हटाया जाए, इसके लिए नित नए हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। उन्होंने बैठक में मौजूद क्षेत्रीय लोगों से कहा कि दो दशक से अधिक इंदौर नगर निगम में भाजपा का शासन है, जिसमें अफसर बेलगाम होकर जनता के काम नहीं करते और प्रदेश सरकार मौन है। बैठक के दौरान चुनाव की रणनीति बनाते हुए पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत टिकट देने की बात पटेल ने कही।
दो घंटे देरी से पहुंचे बैठक में

बैठक शाम 4 बजे रखी गई थी, लेकिन प्रदेशाध्यक्ष पटेल दो घंटे देरी से पहुंचे और शाम 6 बजे बैठक शुरू हुई। इस कारण कई लोग इंतजार करके चले गए। बैठक में जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव, प्रदेश महासचिव केके यादव, प्रदेश सचिव राजेश चौकसे, अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश अध्यक्ष शेख अलीम, प्रदेश सचिव अफसर पटेल, पिछड़ा वर्ग शहर अध्यक्ष राजेश यादव, कांग्रेस अध्यक्ष रमीज खान, शहर कांग्रेस प्रवक्ता अमित चौरसिया, एडवोकेट संतोष यादव, सुदामा चौधरी आदि मौजूद थे।
जनता से सीधे करें संवाद, नाथ ने दिए निर्देश

गौरतलब है कि आगामी नगरीय निकाय चुनाव के मद्देनजर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने सभी मोर्चा संगठनों को दिशा निर्देश जारी करते हुए जनता से सीधे संवाद स्थापित कर वार्ड स्तर पर बैठकें आयोजित करने को कहा है। इसके तहत इंदौर शहर कांग्रेस पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ द्वारा मूसाखेड़ी अग्रवाल समाज की धर्मशाला पर रहवासियों के साथ स्थानीय पदाधिकारियों की यह बैठक आयोजित की गई। इसके बाद कांग्रेस नेताओं ने प्रदेशाध्यक्ष पटेल का स्वागत कर उन्हें खजराना श्री गणेश की फोटो भेंट की।
Indore News : उठाया सवाल, ओबीसी आरक्षण कम करवाकर किस बात का जश्न मना रही भाजपासचिन यादव ने पूछा- भीड़ कितनी है... और नहीं आए

आगामी दिनों में होने वाले नगरीय निकाय और जिला पंचायतों के चुनाव को लेकर कल सपना-संगीता रोड स्थित सुहाना गार्डन में पिछड़ा वर्ग कांग्रेस संगठन के कार्यकर्ताओं की बैठक रखी गई। इसमें कांग्रेस को मजबूत बनाने के लिए और 20 वर्षों से इंदौर नगर निगम में काबिज भाजपा की परिषद व महापौर को हटाकर इस बार कांग्रेस का महापौर व परिषद कैसे बनाई जाए, इसको लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं से सुझाव लिए गए। इंदौर लोकसभा पिछड़ा वर्ग कांग्रेस के अध्यक्ष हिमांशु यादव के नेतृत्व में यह बैठक हुई। इसमें पिछड़ा वर्ग के प्रदेशाध्यक्ष राजमणि पटेल और विधायक सचिन यादव को भी बुलाया गया था। बैठक शाम 5 बजे से शुरू होनी थी, लेकिन प्रदेशाध्यक्ष पटेल शाम 7.30 बजे पहुंचे। इस कारण कार्यकर्ता उनके आने का इंतजार करते रहे। सचिन के न आने पर जब हिमांशु यादव ने उन्हें फोन लगाया, तो उन्होंने पूछा कि भीड़ कितनी है? इस पर हिमांशु ने कहा कि कार्यकर्ताओं की बैठक है, आपको आना है। इस पर उन्होंने हां करके बैठक में आने का समय दिया, लेकिन आए नहीं। इससे कार्यकर्ता उनसे नाराज हो गए। बैठक में शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के अलावा कोई नेता नहीं पहुंचा, जबकि कई नेताओं को बुलाया गया था। बैठक में कांग्रेस नेता छोटेलाल मौर्य, लल्लू कश्यप, रमेश बिजंवा, कर्मराज श्रीवास आदि ने कांग्रेस की मजबूती के लिए अपने विचार रखे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.