99 साल की उम्र में लगवाया राहत का टीका, चेहरे पर आई मुस्कान

जबलपुर जिले में हजारों हितग्राहियों को दी गई कोरोना वैक्सीन की डोज

 

By: shyam bihari

Published: 05 Mar 2021, 09:13 PM IST

 

जबलपुर। कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवाने के लिए जबलपुर के बुजुर्गों में उत्साह बढ़ रहा है। यहां 90 वर्षीय वृद्ध से लेकर 99 वर्षीय महिला कोरोना टीका लगवाने के लिए विक्टोरिया अस्पताल पहुंची। मनमोहन नगर निवासी लक्ष्मी बाई राय ने कोरोना टीका लगवाने के साथ ही विक्ट्री साइन दिखाया। बाकी बुजुर्गों को कोरोना से युद्ध में जीत के लिए वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया। हालांकि लक्ष्य के मुकाबले आधे लोग ही गुरुवार को टीका लगाने के लिए पहुंचे। शाम तक कुल 3 हजार 150 हितग्राहियों को कोरोना का टीका लगा। इसमें हेल्थ केयर, फ्रंट लाइन वर्कर, बुजुर्ग और 45 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले गम्भीर बीमारी से पीडि़त व्यक्ति शामिल हैं।
पहला टीका लगा...
- 2107 हितग्राही 60 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले
- 208 हितग्राही 45 वर्ष से ज्यादा के गम्भीर बीमारी से पीडि़त
- 151 हेल्थ केयर वर्कर, 20 फ्रंट लाइन वर्कर
दूसरा टीका लगा...
- 764 हेल्थ केयर वर्कर
तीसरे चरण के कोरोना टीकाकरण में बुधवार को अस्पतालों में टीका लगवाने के लिए बुजुर्गों की भीड़ लग गई थी। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को छह नए टीकाकरण केन्द्र शुरु किए। इससे जिले में टीकाकरण केन्द्र की संख्या बढ़कर 22 हो गई। इससे अस्पतालों में भीड़ कम हुई। पहचान पत्र लेकर पंजीयन कराने के लिए सीधे अस्पताल आने वाले हितग्राही दोपहर 2 बजे के बाद पहुंचे। इससे ऑनलाइन पंजीयन कराकर निर्देशित टीकाकरण केन्द्र में पहुंचे बुजुर्गों को बिना प्रतीक्षा और परेशान हुए कोरोना की पहली डोज मिल गई। स्वास्थ्य विभाग ने बुजुर्गों को घर के नजदीक ही टीका लगवाने की सुविधा के लिए लगभग और पांच अस्पतालों को टीकाकरण केन्द्र बनाने की तैयारी है। इसमें केन्द्रीय संस्थान के दो अस्पताल भी शामिल है। नए केन्द्र खुलने से रांझी, रामपुर और घमापुर क्षेत्र के हितग्राहियों को घर के नजदीक ही कोरोना टीका लग सकेगा। आयुष्मान भारत योजना के लिए अधिकृत कुछ और निजी अस्पताल में भी कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हो सकता है।

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned