एक और ड्रग माफिया का मकान गिराया, अपराध की कमाई से बना लिए थे करोड़ों के मकान

माफिया के खिलाफ कार्रवाई जारी, जबलपुर में ड्रग माफिया के मकान गिराए....।

By: Manish Gite

Published: 30 Dec 2020, 02:11 PM IST

जबलपुर। मध्यप्रदेश में माफिया पर कार्रवाई का दौर जारी है। बुधवार को शहर में शराब, स्मैक, गांजा बेंचकर अपना कारोबार जमाने वाले माफिया के करोड़ों की कीमत के मकानों को ध्वस्त कर दिया गया। बुधवार को ड्रग माफिया के करोड़ों के मकान और दुकानों पर कार्रवाई हुई। खास बात यह है कि इस माफिया पर बड़े नेताओं का भी संरक्षण मिल रहा था। इस कार्रवाई के बाद से माफिया में हड़कंप मचा हुआ है।

02_jcb.png

 

 

जबलपुर में बुधवार को एक बार फिर जिला प्रशासन का बुल्डोजर चला। 40 साल के ड्रग माफिया शेखर सोनकर के मकानों को ध्वस्त कर दिया गया। सोनकर के खिलाफ विभिन्न धाराओं में 28 केस रजिस्टर हैं। बताया जा रहा है कि इस माफिया पर क्षेत्र के ही एक बड़े जनप्रतिनिधि का संरक्षण प्राप्त है।

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और SP सिद्धार्थ बहुगुणा बुधवार सुबह सिंधी कैम्प भानतलैया निवासी ड्रग माफिया शेखर सोनकर का कब्जा ढहाने पहुंचे। बताया गया है कि भूमि खसरा नंबर 353 व 354 रकबा 0.747 हेक्टेयर पर ड्रग माफिया शेखर सोनकर ने बिना अनुमति के अवैध तरीके से मकान व दुकान बना लिया था। इसकी कीमत लगभग डेढ़ करोड़ से अधिक है।

 

एक नजर

  • -गोहलपुर के खसरा नम्बर 344 की लगभग 3000 वर्गफीट भूमि पर भी शेखर सोनकर की ओर से एक करोड़ की लागत से मकान बना लिया गया था। इसे भी तोड़ा गया।
  • -एक दुकान उसने देशी कलारी के लिए अनुबंध किया है। अभी इस दुकान को छोड़ दिया गया है। वह किराए पर मकान चलाता था।
  • -तीसरी कार्रवाई सिंधी कैम्प में ही खसरा नंबर 340 में 650 वर्गफीट में दो मंजिला मकान बना लिया था। 50 लाख कीमत वाले इस मकान को भी तोड़ दिया गया। दो उसकी पत्नी के नाम और एक उसके नाम पर प्रॉपर्टी थी।
  • -आरोपी शेखर सोनकर ने गुंडई और पैसों के दम पर जानकी नाथ मंदिर ट्रस्ट की जमीन पर भी कब्जा कर मकान तान लिया है। इसे भी वह किराए से दे रखा है।
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned