16 साल की उम्र में ही लड़की पर बुरी नजर रखने लगा, अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी भी दी, बदले में हत्या हो गई

जबलपुर के विजय नगर में किशोर का मिला था शव, हत्या का खुलासा हुआ तो सामने आया युवक ने लिया था अपनी इज्जत का बदला

 

By: shyam bihari

Published: 12 Dec 2020, 08:07 PM IST

 

जबलपुर। यह आपराधिक कहानी बेहद सनसनीखेज है। 16 साल का एक किशोर पढऩे-लिखने की उम्र में ही गलत संगत में पड़ गया। पुलिस का कहना है कि वह एक लड़की पर बुरी नजर रखता था। किसी तरह से उसने लड़की की अश्लील फोटो भी खींच ली। फिर मिलने के लिए ब्लैकमेल करने लगा। लड़की के भाई को यह बात पता चली तो उसने अपने चचेरे भाई के साथ मिलकर आरोपी युवक की हत्या कर दी। इस हत्याकांड ने जबलपुर शहर में नई बहस को जन्म दिया है। मनोविशेषज्ञों का कहना है कि किशोरवय उम्र में इस तरह के अपराध का बढऩा चिंताजनक है। बदले में हत्या करने की सोच भी खतरनाक है। इस मामले में परिजन को सचेत होना होगा।

जबलपुर के रविनगर निवासी नौवीं के छात्र तरुण अहिरवार की हत्या एक युवक और किशोर ने मिलकर की थी। क्योंकि, तरुण अहिरवार युवक की बहन पर बुरी नजर रखता था। एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने शुक्रवार को बताया कि तरुण शहर निवासी प्रांजल जैन नाम के युवक की बहन पर बुरी नजर रखता था। मुलाकात नहीं कराने पर फोटो वायरल करने की धमकी देता था। इस पर प्रांजल ने एक किशोर के साथ मिलकर तरुण की हत्या की साजिश रची। किशोर ने दो दिसम्बर को तरुण से कहा कि वह जिससे मिलना चाहता है, वह विजय नगर जीरो डिग्री के पास पहुंच रही है। फिर प्रांजल और किशोर तरुण को बाइक से विजय नगर स्कीम नम्बर-41 के पास ले गए। वहां तरुण के मोबाइल फोन से बहन के फोटो डिलीट करवाए। उसके बाद चाकू से वार कर हत्या कर दी। वारदात में प्रांजल के स्वेटर पर खून लग गया, इसलिए उसने स्वेटर और चाकुओं को घटनास्थल से दूर फेंक दिया। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने स्वेटर, वारदात में प्रयुक्त चाकू और बाइक बरामद कर ली है। एसपी ने आरोपियों की गिरफ्तारी पर दस हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया था। रविनगर , लार्डगंज निवासी तरुण अहिरवार (16) दो दिसम्बर की रात घर से निकला, लेकिन वापस नहीं लौटा। तीन दिसम्बर को उसका शव विजय नगर स्कीम नम्बर-41 के पास झाडिय़ों में मिला।

Show More
shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned