करियर: टेक्सटाइल डिजाइनर बनकर संवारें कॅरियर, विदेशों में भी अवसर

इंडियन डिजाइन की भारी डिमांड, फैशन इंडस्ट्री में रोजगार की कई सम्भावनाएं

 

By: Lalit kostha

Published: 22 Feb 2021, 01:00 PM IST

जबलपुर। यदि नेम, फेम और पैसे की चाह रखते हैं, तो टेक्सटाइल डिजाइनिंग में कॅरियर बना सकते हैं। टेक्सटाइल डिजाइनिंग का कोर्स करके फैशन इंडस्ट्री में एंट्री पाने के साथ फॉरेन कंट्रीज में भी जॉब पा सकते हैं। विदेशों में इंडियन कपड़े व डिजाइन की भारी डिमांड है। यही वजह है कि देश में टेक्सटाइल डिजाइनिंग का काम पॉपुलर हुआ है। पिछले पांच साल में टेक्सटाइल में कॅरियर बनाने वालों की संख्या बढ़ी है। इस फ ील्ड में अब मॉडर्न टेक्नोलॉजी भी यूज होने लगी है, जिसे सीखने व समझने के लिए टेक्सटाइल कोर्स की जरूरत पड़ती है। इसके लिए डिप्लोमा, डिग्री एवं सर्टिफि केट कोर्स अवेलेबल हैं।

ये कोर्स कर सकते हैं
डिप्लोमा इन फैशन एंड टेक्सटाइल डिजाइन, बैचलर ऑफ साइंस इन फैशन एंड अपैरल डिजाइनिंग, डिप्लोमा इन टेक्सटाइल एंड फैशन डिजाइन, बीएससी इन टेक्सटाइल डिजाइन, मास्टर इन टेक्सटाइल डिजाइनिंग आदि।

यहां से करें कोर्स
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, पर्ल एकेडमी ऑफ फैशन नई दिल्ली, इंटरनेशनल इंस्ट्रीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी नई दिल्ली, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन अहमदाबाद, इंटरनेशनल पॉलीटेक्निक फ ॉर वुमन, एपीजे इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, डिजाइन एंड इनोवेशन एकेडमी नोएडा, इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन डिजाइन चंडीगढ़, आर्क एकेडमी ऑफ फैशन आर्ट डिजाइन जयपुर।

जबलपुर में होमसाइंस कॉलेज के अलावा कई प्राइवेट कॉलेज ये कोर्स करा रहे हैं। एक वर्षीय डिप्लोमा से लेकर सर्टिफिकेट और डिग्री होती है।
- डॉ. रचना अग्रवाल, गेस्ट फैकल्टी शास. होम साइंस कॉलेज

.
टेक्सटाइल डिजाइनर के जॉब के चांस डिजाइन स्टूडियो, कपड़ा मिल, एक्सपोर्ट हाउस, फैशन स्टूडियो आदि में हैं। इसके अलावा डिजाइनर सरकारी व निजी फ र्म में भी जॉब के साथ खुद का स्टार्टअप भी शुरू कर सकते हैं। सभी इंस्टीट्यूट में प्री एक्जाम के बाद एडमिशन होता है।
- मौसमी तिवारी, फैशन डिजाइनर

Sonam Kapoor fashion
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned