कोरोना का संक्रमण तेज, लॉकडाउन की सूचना के बाद बाजार में उमड़ी भीड़

-प्रदेश शासन ने आज रात से सोमवार की सुबह तक के लिए घोषित किया है लॉकडाउन
-स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक बंद कर दिए गए
-कोरोना प्रोटोकॉल के पालन पर सख्ती के निर्देश

By: Ajay Chaturvedi

Published: 20 Mar 2021, 01:57 PM IST

जबलपुर. कोरोना का संक्रमण लगातार तेज होता जा रहा है। ऐसे में प्रदेश सरकार ने जबलपुर सहित सूबे के तीन बड़े शहरों में शनिवार की रात से सोमवार की सुबह तक के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया है। इस सूचना के बाद आमजन भी हड़बड़ी में नजर आए। शनिवार की सुबह बाजार खुलते ही लोग जरूरी सामानों की खरीदारी में जुट गए। खास तौर पर खाद्यान्न आदि की खरीदारी तेज हो गई। ऐसे में किराना बाजार में आमदिनों से ज्यादा भीड़ नजर आई।

लॉकडाउन की सूचना के बाद बाजार में उमड़ी भीड़

बता दें कि शुक्रवार देर शाम को ही शासन की ओर से जबलपुर, भोपाल और इंदौर में 32 घंटे का लॉकडाउन घोषित कर दिया गया। इसके बाद शुक्रवार की शाम से ही लोग रोजमर्रा की जरूरत की चीजें जुटाने में जुट गए। शासन की ओर से जारी सूचना के मुताबिक कोरोना के तेज होते संक्रमण के मद्देनजर 31 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक 32 घंटे के सम्पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है।

इस दौरान सिर्फ दूध, दवा की दुकानों को भी खुलने की छूट रहेगी। इसके अलावा नगर निगम, अस्पताल कर्मी, रेलवे, फैक्ट्री, उद्योग आदि से जुड़े आवश्यक सेवाओं वाले लोगों को ही आवाजाही की छूट रहेगी। इन लोगों को अपना परिचय पत्र दिखाना होगा। सामाजिक समारोह आयोजित करने के लिए प्रशासन से अनुमति लेनी होगी। सब्जी व राशन की दुकानों को लेकर अभी निर्णय होना है।

यहां यह भी बता दें कि जिले में कोरोना संक्रमण को पूरे एक वर्ष हो चुके हैं। 20 सितंबर 2020 को जिले में सबसे अधिक 251 केस एक दिन में आए थे। इसके बाद कोरोना के केस लगातार कम होते गए। अक्टूबर में औसतन एक दिन में 100 के लगभग मामले सामने आए थे। इसके बाद कोरोना का संक्रमण तेजी से घटा था। जनवरी में जिले में कुल 730 मामले सामने आए थे, जो फरवरी में 382 रह गए थे। अब मार्च में 19 दिनों में संक्रमण का आंकड़ा बढ़कर 816 पहुंच गया है। पॉजिटिविटी रेट 5.5 फीसद तक पहुंच गई है, जबकि रिकवरी रेट घटकर 95.83 फीसद पर आ गया है।

शुक्रवार को 116 लोग नए संक्रमित हुए
जिला प्रशासन के मुताबिक गुरुवार को कुल 1302 सेम्पल लिए गए थे। शुक्रवार को रिपोर्ट में 116 लोग संक्रमित पाए गए। वहीं 41 लोग डिस्चार्ज हुए। कोरोना से संक्रमित होने वालों की संख्या 17 हजार 464 तक पहुंच गया है। वहीं कोरोना को हटाने वालों की संख्या 16 हजार 736 हो गया है। कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या 253 तक पहुंच गई है। जिले में कोरोना के एक्टिव केस 476 हो गए हैं। शुक्रवार को कोरोना की जांच के लिए 1505 सैंपल लिए गए हैं।

कोरोना से संक्रमित कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने शुक्रवार को वर्चुअल मीटिंग ली। निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमित की केस हिस्ट्री ट्रेस करें और उन्हें होम आइसोलेट करने को कहा है। उन्होंने शहरी क्षेत्र के साथ ग्रामीण क्षेत्र में कोविड टेस्ट के लिए सैंपल साइज बढ़ाने के निर्देश दिए। जागरुकता के साथ ही रोको-टोको अभियान भी अग्रेसिव मोड पर चलाने के निर्देश दिए हैं। मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए। ऐसी दुकानें सील करने व एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए, जहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है।

संक्रमित के घर पर पोस्टर लगाया जाएगा। कोरोना पॉजिटिव मरीजों और उनके करीबी संपर्क में आने वाले लोगों की सार्थक पोर्टल पर एंट्री कराने के निर्देश दिए। वहीं, माइक्रो कंटेनमेंट जोन भी बनाने को कहा है। शहरी क्षेत्र में फीवर क्लीनिक को एक्टिव करने, रेपिड रिस्पांस टीम, मेडिकल मोबाइल यूनिट और वार्डवार गठित टीमों को एक्टिव करने का निर्देश दिया है।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned