कोरोना: जबलपुर में व्यापारियों ने लगाया लॉकडाउन, लोगों में डर समाया

स्वेच्छिक लॉकडाउन: कोरोना संक्रमण की चेन को तोडऩे के लिए व्यापारी खुद कर रहे पहल
सराफा दुकानें नहीं खुलीं, थोक किराना बाजार बंद होने से सूना रहा मुख्य बाजार

By: Lalit kostha

Updated: 15 Sep 2020, 11:41 AM IST

जबलपुर। किराना के थोक व्यापार के बाद सराफा कारोबारी भी सोमवार से स्वेच्छिक लॉकडाउन में शामिल हो गए। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए उन्होंने यह निर्णय लिया है। किराना कारोबारी 15 सितंबर तक प्रतिष्ठान बंद रखेंगे। आभूषण निर्माता व विके्रता भी 16 सितंबर तक अपने शोरूम नहीं खोलेंगे। मोबाइल विक्रेताओं ने हर रविवार को व्यावसाय नहीं करने का निर्णय लिया था। इसमें कम्प्यूटर डीलर्स भी सहमत हो गए हैं। उन्होंने अपने कारोबार का समय भी घटा दिया है।

मुकादमगंज में 300 दुकानें बंद
मुकादमगंज में किराना, मेवे, तेल, शक्कर, अगरबत्ती, चायपत्ती आदि के थोक डीलर्स ने पूरी मंडी को बंद कर दिया है। उनका कहना है कि यदि उनके थोड़े से प्रयास की वजह से संक्रमण की चेन टूटती है तो ये बेहतर होगा। तकरीबन 300 दुकानों लगातार दूसरे दिन भी बंद रहीं। सराफा एसोसिएशन जबलपुर ने सोमवार से दुकानें पूरी तरह बंद कर दीं। न केवल सराफा बाजार बल्कि जहां भी ज्वेलरी की दुकानें हैं उनमें से अधिकांश ने कारोबार नहीं किया। कोरोना के संक्रमण से न केवल आम व्यापारी बल्कि सराफा व्यावसाय से जुड़े कारोबारी भी प्रभावित हो रहे हैं। जिले में जब कोरोना पॉजिटिव का पहला केस आया था तो वह भी सराफा कारोबारी रहे। बीच में सराफा बाजार के कई इलाकों में संक्रमित मिलते रहें।

 

coronavirus-lockdown.jpg

शाम तक खरीद लें कंप्यूटर: इसी तरह कम्प्यूटर डीलर्स ने सोमवार से कारोबार के समय में बदलाव किया। महाकोशल कम्प्यूटर डीलर्स एसोसिएशन के मीडिया प्रभारी नितिन जैन ने बताया कि अब डीलर्स सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक कारोबार करेंगे। उनका कहना है कि वे प्रत्येक रविवार को स्वेच्छिक लॉकडाउन में भी शामिल होंगे। जैन ने बताया कि वर्तमान में कोरोना का संक्रमण तेजी के साथ फैल रहा है। इसलिए एसोसिएशन ने यह दोनों निर्णय लिए हैं।

अधारताल में रात 8 बजे तक खुलेंगी दुकानें
अधारताल व्यापारी संघ की सोमवार को एक बैठक हुई। इसमें कोरोना संक्रमण के खतरे के मद्देनजर सुबह 10 बजे रात आठ बजे तक दुकानें खोलने का निर्णय लिया गया। रविवार को क्षेत्र में पूर्ण लॉक डाउन रहेगा। बैठक में व्यापारी संघ के संरक्षक वासुदेव जैसवानी, दिनेश ताम्रकार, अवध बिहारी गौतम, नन्हे खान, रमेश अनेजा, अध्यक्ष राकेश श्रीवास्तव, अभिषेक पहरिया, नरेन्द्र कुरोलिया, राजकुमार उपस्थित थे।

छावनी में बंद को लेकर असमंजस
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए और परिवारों की सुरक्षा को लेकर छावनी क्षेत्र की दुकानें मंगलवार से शाम छह बजे के बाद बंद करने के निर्णय को लेकर व्यापारी संगठनों में एकराय नहीं हो सकी है। छावनी क्षेत्र के जागरूक व्यापारी संघ के माध्यम से विगत दिवस बैठक कर 15 सितम्बर से स्वस्फूर्त निर्णय लिया गया था। दूसरी और छावनी व्यापारी संघ के अध्यक्ष चमन श्रीवास्तव ने कहा वे बैठक के बाद इस पर निर्णय लेंगे।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned