covid-19 horrible: 1 शहर, 11 दिन, 1039 कोरोना मरीज, 18000 हुई संक्रमितों की संख्या

शहर में कोरोना की दूसरी लहर का खतरा तेज, लापरवाही से घर पहुंच रहा कोरोना

By: Lalit kostha

Published: 25 Mar 2021, 01:30 PM IST

जबलपुर। कोरोना के काबू में आते ही लापरवाही से संक्रमण फिर पैर पसार रहा है। महज 11 दिनों में कोरोना के 1039 नए मरीज मिले हैं। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 18 हजार से अधिक हो गई है। लगभग पांच महीने बाद जिले में कोरोना संक्रमण की दर में इतनी तेजी से वृद्धि हुई है। इससे पहले पहली लहर के बाद 20 या इससे ज्यादा दिन में ही कोरोना शतक लगा रहा था। इस माह संक्रमण का फैलाव जिस तेजी से हुआ है, उसे कोरोना की दूसरी लहर की दस्तक माना जा रहा है।

छह दिन में 700 मरीज
शहर में 14 से 24 मार्च के बीच 11 दिन में सामने आए एक हजार मरीजों में से 702 सिर्फ बीते छह दिन में मिले हैं। बुधवार को लगातार छठे दिन 100 से ज्यादा संक्रमित मिले। 22 से 24 मार्च के बीच दो व्यक्तियों की कोरोना से मौत हुई है।

गर्मी और कोरोना कनेक्शन
शहर में कोरोना की शुरुआत पिछले वर्ष मार्च में हुई थी। सितंबर में पहली लहर आई थी, तब एक दिन में 251 संक्रमित मिले थे। चिकित्सकों को शीतकाल में संक्रमण के और तेजी से फैलने की सम्भावना थी। लेकिन शहर में पिछले वर्ष दिसंबर से इस वर्ष फरवरी तक कोरोना के केस कम हो गए। मार्च माह में फिर से कोरोना का पलटवार हुआ है। इससे यह सम्भावना भी जताई जा रही है कि यहां सक्रिय कोरोना का स्ट्रेन गर्मी में ज्यादा प्रभावी है।

 

corona_1.jpg

‘एसएमएस’ की अनदेखी का खामियाजा
शहर में कोरोना के मामले बढऩे को एसएमएस (सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क व सेनेटाइजेशन) की अनदेखी का खामियाजा माना जा रहा है। जानकारों के अनुसार जनवरी और फरवरी माह में नए मरीजों का औसत 20 से कम होने पर प्रशासन ने मास्क नहीं लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई रोक दी। लोगों ने सेनेटाइजेशन व संक्रमण से बचाव के अन्य उपायों को अपनाना बंद कर दिया। इससे संक्रमण को पैर पसाने का अवसर मिल गया।

कोरोना के नए मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। शहर सहित नागपुर व अन्य शहरों में भी जहां अभी कोरोना के नए मरीज मिले हैं, उनकी संख्या में वृद्धि की दर काफी ज्यादा है। यदि सुरक्षा उपायों को लेकर कोताही जारी रही, तो स्थिति खतरनाक हो सकती है। बेहतर स्थिति के लिए हमें पिछले साल की तरह सतर्क रहकर संक्रमण से बचाव के तरीकों को अपनाना होगा।
- डॉ. संजय भारती, कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड प्रभारी, एनएससीबी मेडिकल कॉलेज

coronavirus Coronavirus Outbreak COVID-19
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned