व्रत में रखें डाइट का ध्यान, रहेंगे फिट

जबलपुर के जानकारों ने बताई बेहद जरूरी बातें

By: shyam bihari

Updated: 19 Oct 2020, 07:56 PM IST

जबलपुर। कोरोना काल से जूझते हुए जबलपुर के लोग भी नवरात्र पर मां भगवती की आराधना के साथ ही लोग नौ दिन का व्रत रख रहे हैं। इसमें आस्था और विश्वास के साथ शारीरिक विज्ञान का भी कनेक्शन जुड़ा है। कोविड-19 के चलते इस बार माता की भक्ति में जरूरत से ज्यादा भूखे रहना या व्रत रखना नुकसानदायक हो सकता है। डाइटिशियन के अनुसार नौ दिनों का व्रत रखते समय नौ बातों का विशेष ध्यान रखा जाए, तो माता की सेवा और भक्ति में कमी या रुकावट नहीं आएगी। साथ ही कोविड -19 संक्रमण से लडऩे में भी आपकी बॉडी वीक नहीं पड़ेगी।
काम का बादाम
डाइटिशियन गरिमा मिश्रा के अनुसार एक सुबह की शुरुआत हेल्दी तरीके से करें जो आपके शरीर में पोषक तत्वों की पूर्ति भी करें और उर्जा बनाए रखें। रात को पानी में दो बादाम दो अखरोट एक अंजीर और किशमिश के कुछ दाने भिगो दें और सुबह उसे खाएं। इससे आयरन ओमेगा-3 सहित अन्य पोषक तत्व प्राप्त होंगे। एक गिलास दूध और केले के साथ दो बादाम लेने से प्रोटीन, कैल्शियम की पूर्ति होगी। मखाने, मूंगफली, मूंगफली की चिक्की, राजगीर के लड्ड़, कुट्टू का आटा उपवास में लिया जा सकता है। इसमें प्रोटीन, मैग्नीज, कॉपर, आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस आदि होते हैं।
पानी पीएं
डाइटिशियन ऋचा जैन के अनुसार डिहाइड्रेशन से बचने के लिए रूक-रूक कर पानी का सेवन करते रहना चाहिए। वहीं फाइबर, मिनरल और विटामिन की पूर्ति के लिए खट्टे फलों का सेवन करते रहें। दूध, दही, मठा, पनीर का भी सेवन करें। इनमें कैल्शियम, मिनरल, विटामिन ए और बी, प्रोटीन, विटामिन बी 12 और जिंक भरपूर मात्रा में होता है। आहार में गाजर, ककड़ी, टमाटर, हरी धनिया को भी शामिल किया जा सकता है। इन्हें चटनी के रूप में भी लिया जा सकता है। यह फाइबर मंडल का अच्छा स्रोत माना जाता है। न्यूट्रिशियन ऋचा जैन के अनुसार अत्याधिक आयल युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन नहीं करें। नारियल पानी का सेवन भी कर सकते हैं। इससे थकान कम होगी।

Show More
shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned