घरों में होगा गणपति प्रतिमा विसर्जन

प्रशासन ने की अपील, संतों ने भी कहा सावधानी रखें

By: Sanjay Umrey

Published: 30 Aug 2020, 06:57 PM IST

जबलपुर। दस दिनी गणेशोत्सव पर्व का अनंत चतुर्दशी के साथ सोमवार को समापन होगा। इस बार प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के खतरे के मद्देनजर घरों में ही गणपति की प्रतिमाओं को विसर्जित करने की अपील की है। संतों ने भी घरों में ही विसर्जन करने के लिए कहा है।
कुंड बनाकर विसर्जन
महाराष्ट्र समाज ने महाराष्ट्र हाईस्कूल में गणेश जी की प्रतिमा विराजित की है। संस्था के राजेंद्र बर्वे के अनुसार स्कूल परिसर में पौधों की क्यारी के पास ही प्रतीकात्मक कुंड बनाकर प्रतिमा विसर्जित करेंगे। 13 वर्षीय महर्षि व वेद के अनुसार वे प्रतिवर्ष घर में ही मिट्टी के गणेशजी की प्रतिमा का विजर्सन करते हैं। पानी मिट्टी को गमलों में डाल कर फूल के पौधे लगा देते हैं। अर्णिमा भार्गव ने भी घरों में ही विसर्जन की बात कही है।
प्रकृति का भी संरक्षण
स्वामी गिरिशानंद सरस्वती ने कहा कि विसर्जन के दौरान बाहर भीड़ होगी, तो कोरोना फैलने का डर होगा। ऐसे में घर पर गणेश विसर्जन एक बेहतर विकल्प है। इससे नर्मदा समेत ताल तलैया भी प्रदूषण से बचेंगे।
हर बच्चे से कहा
साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी व साध्वी मैत्रेयी दीदी ने ब्रह्मर्षि बावरा मिशन नर्मदा विद्यापीठ के सभी बच्चों व उनके परिजन से घर पर गणेश विसर्जन करने की अपील की है। कहा कि सावधानी आवश्यक है।
महाराष्ट्र समाज ने किया पूजन
महाराष्ट्र समाज गणेशोत्सव समिति की ओर से महाराष्ट्र स्कूल में स्थापित गणपतिजी का शनिवार को पूजन-अर्चन किया गया। भगवान की आरती और पूजन डॉ. जितेंद्र जामदार, डॉ. सुनील देशपांडे, राजेंद्र बर्वे, विलास ताम्हनकर, वि_ल वैद्य ने किया। पूजन स्वपनिल गरे, जयेश टकलकर व निर्णय काले ने सम्पान्न कराया।

Sanjay Umrey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned