scriptJabalpur-Sleemanabad is canal dilapidated, narmada water news | टनल बननेे के बाद भी रीवा नहीं पहुंचेगा नर्मदा का पानी, ये है मुख्य वजह | Patrika News

टनल बननेे के बाद भी रीवा नहीं पहुंचेगा नर्मदा का पानी, ये है मुख्य वजह

टनल बननेे के बाद भी रीवा नहीं पहुंचेगा नर्मदा का पानी, ये है मुख्य वजह

 

जबलपुर

Updated: January 08, 2022 02:24:38 pm

मनीष गर्ग@पत्रिका। मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी सिंचाई परियोजना में शामिल बरगी दायीं तट नहर व्यपर्तन परियोजना के काम में हो रही देरी से भविष्य में मुसीबत बनने वाली है। जबलपुर से रीवा तक के खेतों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने वाली यह परियोजना अभी पूरी नहीं हुई है। इसके लिए स्लीमनाबाद में टनल बनाई जा रही है। टनल बनने के बाद यहां से ज्यादा मात्रा में पानी छोड़ा जाएगा।

narmada water news
narmada water news

338 किमी लम्बी है नहर
जबलपुर. रीवा तक पानी पहुंचाने के लिए लगभग 328 किलोमीटर लम्बी नहर है। स्लमीनाबाद तक लगभग 105 किमी मुख्य नहर 2005 में ही तैयार हो गई है। स्लीमनाबाद में 13 किमी लम्बी टनल बनाई जा रही है। टनल का काम पूरा होने पर यहां से रीवा तक पानी पहुंचाने की योजना है। अभी टनल का निर्माण जारी है। विभाग द्वारा जून 2023 तक कार्य पूरा होने की उम्मीद जताई जा रही है। टनल तैयार होने पर मुख्य नहर के क्षतिग्रस्त होने के कारण यहां से ज्यादा मात्रा में पानी छोड़ा भी जाएगा तो क्षतिग्रस्त नहरों व सिल्ट के कारण बहाव नहीं आएगा। बल्कि नहर के फूटने का खतरा होगा। इस स्थिति में समय से पहले नहरों का रखरखाव शुरू नहीं हुआ तो नहर से रीवा तक पानी पहुंचाने में कई साल लग जाएंगे।

canal.jpg

उपनहरें हो गईं गायब
मुख्य नहरों के साथ ही सहायक नहरों की हालत भी खराब है। इन नहरों में पानी नहीं छोड़ा जा रहा है। ये नहरें झाडियों में गुम हो गई हैं। कई स्थानों पर क्षतिग्रस्त भी हो गई हैं।

कई जगह धंस गई किनारे की सडक़
दायीं तट तुख्य नहर जगह-जगह से जर्जर है। इसके दोनों पाटों में झाडिय़ां उग आई हैं। एक से डेढ़ फीट तक सिल्ट जमा है। गोसलपुर, अगरिया के पास नहर की सडक़ भी धंसने लगी है। यहां बने पुल भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। नहर के किनारे से ही यहां की खदानों के वाहन गुजर रहे हैं। इससे सडक़ धंस रही है। इस मार्ग पर कई स्थान ऐसे हैं, जहां नहर के किनारे की सडक़ गायब हो गई है। विभाग की ओर से नहर के किनारे से भारी वाहनों को निकलने से रोकने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। नतीजतन नहर बदहाल होती जा रही है।

अधिकारी नहीं करते दौरा
स्थानीय स्तर पर नहरों के रखरखाव और सिंचाई में भागीदारी के लिए गठित की जाने वाली जल उपभोक्ता संस्था फिलहाल भंग है। नहरों के रखरखाव के लिए क्षेत्र के अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की गई है। वे क्षेत्र का दौरा नहीं कर पा रहे हैं। इससे नहरों की हालत और खराब हो रही है।

ये है स्थिति
- दायीं तट नहर की लगभग 338 किलोमीटर है मुख्य नहर
- जबलपुर से स्लीमनाबाद के बीच 105 किलोमीटर है मुख्य नहर
- स्लीमनाबाद में 13 किलोमीटर लम्बी टनल का हो रहा निर्माण
- टनल बनने के बाद रीवा तक पहुंचना है नहर का पानी
- बरगी स्लीमनाबाद के बीच कई जगह मुख्य नहर जर्जर
- नहर के किनारे टूटे, सिल्ट जमा,उग रहीं झाडिय़ां
- टनल बनने के बाद मुख्य नहर के क्षतिग्रस्त होने से आएगी समस्या
- नहरों का रखरखाव नहीं, किनारे से दौड़ रहे भारी वाहन

दायीं तट नहर से रीवा तक पानी पहुंचाने के लिए स्लीमनाबाद के पास टनल बनाई जा रही है। टनल का काम पूरा होने से पहले जबलपुर-स्लीमनाबाद के बीच नहरों को दुरुस्त कराया जाएगा। सिल्ट भी साफ कराई जाएगी। नहर के किनारे की सडक़ों से भारी वाहनों की आवाजाही रोकने के लिए हाइट गेज लगाए गए थे, वे भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया है। सूचना भी लगाई गई है कि नहर के किनारे की सडक़ भारी वाहनों के लिए नहीं है।
- आरएम शर्मा, चीफ इंजीनियर, अपर नर्मदा जोन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

Coronavirus update: 24 घंटे में कोरोना के 3 लाख 37 हजार नए केस, 488 मौतेंUP Election 2022: पूर्वांचल के 12 हजार बूथों पर होगी निर्वाचन आयोग की पैनी नजर, किसी तरह की गड़बड़ी पलक झपकते होगी दूरClub House Chat मामले में दिल्ली पुलिस कर रही 19 वर्षीय छात्र से पूछताछ, हरियाणा से भी हुई तीन गिरफ्तारियांCorona Vaccine: वैक्सीन के लिए नई गाइडलाइंस, कोरोना से ठीक होने के कितने महीने बाद लगेगा टीकाGood News: प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस बने माता-पिता, एक्ट्रेस ने पोस्ट शेयर कर फैंस को बताया- बेबी आया है...PM Kisan: Budget 2022 में किसानों को मिल सकती है बड़ी सौगात,पीएम किसान सम्मान की रकम में हो सकती है बढ़ोतरीUP Election 2022: .. इस प्रदेश में तो आधी आबादी ही तय करती है किसकी बनेगी सरकारUP Election: भाजपा की 25 वर्षीय वह उम्मीदवार जो आ गई सुर्खियों में, पिता हाल ही में हुए थे सपा में शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.