छोटी दिवाली पर बना चतुर्दशी योग, लक्ष्मी की कृपा पाने का सुनहरा अवसर आज

दीपोत्सव का दूसरा दिन आज
फलदायक है धनतेरस के साथ चतुर्दशी योग

By: Lalit kostha

Published: 13 Nov 2020, 11:32 AM IST

जबलपुर। दीपोत्सव का शुक्रवार को दूसरा दिन है। धनतेरस के साथ छोटी दीपावली का पर्व भी मनाया जाएगा। रूप चौदस धनतेरस के अगले दिन मनाई जाती है। इसे नरक चतुर्दशी भी कहते हैं। घर के बाहर दीपक जलाकर छोटी दीपावली मनाई जाती है। मान्यता है कि इस दिन यम की पूजा करने से अकाल मृत्यु का खतरा टल जाता है। पंडित जनार्दन शुक्ला के अनुसार इस दिन भगवान कृष्ण की पूजा करने से रूप सौंदर्य की प्राप्ति होती है।

घर पर करें त्वचा का निखार
मान्यताओं के अनुसार रूप चौदस को घर पर आटा, बेसन का उपटन लगाने तथा प्राकृतिक उपायों का उपयोग करना अच्छा माना जाता है। त्वचा का निखार या खूबसूरत बनाने के लिए इन उपायों को आज किया जाता है। वहीं कुछ महिलाएं ब्यूटी पार्लर में भी आज के लिए फेशियल आदि कराती हैं।

तिथि व स्नान मुहूर्त
चतुर्दशी तिथि प्रारंभ- 13 नवम्बर 2020 को शाम 3 बजकर 48 मिनट से
चतुर्दशी तिथि समाप्त- 14 नवम्बर 2020 को दोहपर 1 बजकर 36 मिनट तक।
अभ्यंग स्नान का मुहूर्त- 14 नवम्बर 2020 को सुबह 05 बजकर 32 मिनट से सुबह 06 बजकर 53 मिनट तक।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned