CCTV फुटेज से हुआ एक और खुलासा, पुलिस ने लूट के आरोपियों को किया गिरफ्तार

-अधारताल, पनागर, गोहलपुर और विजय नगर में लूट की घटना

By: Ajay Chaturvedi

Published: 04 Mar 2021, 02:38 PM IST

जबलपुर. जबलपुर पुलिस के लिए CCTV फुटेज काफी लाभदायक साबित हो रहा है। एक तरफ जहां सीसीटीवी फुटेज के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने एक युवती के साथ छेड़-छाड़ और मारपीट के एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की, वहीं एक अन्य लूट के मामले में सगे भाइयों को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता पाई।

बताया जा रहा है कि लूट के इन आरोपियों ने एक ही दिन में अधारताल, पनागर, गोहलपुर और विजय नगर में लूट की वारदात को कबूल कर लिया है। दोनों के कब्जे से लूट का माल लॉकेट सहित सोने की चेन, सोने के तीन लॉकेट, दो गुरिया और लूट में प्रयुक्त मोटरसाइकिल बरामद किया गया है।

पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के अनुसार जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है उनमें लालमाटी चांदमारी तलैया घमापुर निवासी समर उर्फ सुरेंद्र उर्फ सुरेश पिता स्व. मोतीलाल साहू (उम्र 32 वर्ष) निवासी लालमाटी चांदमारी तलैया घमापुर और उसका बड़ा भाई विनोद उर्फ पप्पू साहू (उम्र 34 वर्ष) है।

POLICE

पुलिस के अनुसार थाना अधारताल में 23 फरवरी की रात लगभग 8.30 बजे रानू त्रिपाठी (उम्र 60 वर्ष) निवासी इंद्रलोक कालोनी पटैल नगर महाराजपुर ने रिपेार्ट दर्ज कराई थी कि शाम लगभग 5 बजे घर से सब्जी लेने महाराजपुर जा रही थीं। वह जैसे ही घर से निकलीं, दो अज्ञात लड़के मुंह में कपड़ा बांधे बाइक से आए और पीछे से गले में झपट्टा मारकर लॉकेटयुक्त सोने की चैन लूटकर भाग निकले।

इसी तरह थाना पनागर में 23 फरवरी की रात लगभग 8.45 बजे सुधा लोधी (उम्र 34 वर्ष) निवासी आजाद वार्ड पनागर ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि वह अपनी छोटी बहन निशा पटैल तथा देवर की बेटी पूनम पटैल तथा बहन की बेटी आशी के साथ पनागर बजार से सामान खरीद कर अभिमन्यू चौक होते हुए अपने घर पैदल जा रही थी। शाम लगभग 6.10 बजे बजरिया जैन मंदिर के पास बद्री कोरी के घर सामने रोड पर पहुंची थी, वहां पहले से दो लड़के मोटर साइकिल सहित ख़डे थे। एक लड़के ने उसके गले से सोने का मंगलसूत्र जिसमें एक पेंडल एवं चार सोने की गुरिया लगी थी को उसके गले से खींच लिया और मंगलसूत्र लेकर मोटर साइकल से अभिमन्यू चौक की तरफ भाग गए।

सीसीटीवी फुटेज से लूट के आरोपियों तक पहुंची पुलिस को पता चला कि समर साहू को हत्या के अपराध में न्यायालय द्वारा आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा चुकी है। वह जमानत पर जेल के बाहर है। समर अपने भाई के साथ लूट की वारदात करने को अंजाम देने के बाद रीवा भागने की कोशिश में था। दोनों भाइयों से लूट के अन्य वारदातों में भी पूछताछ की जा रही है। समर के विरूद्ध थाना घमापुर में हत्या सहित छह अपराध एवं विनोद उर्फ पप्पू साहू के विरूद्ध लूट सहित 10 अपराध शहर के विभिन्न थानों में पंजीबद्ध होकर न्यायालय मे विचाराधीन हैं।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned