घर का बंटवारा नहीं किया तो बेटे ने पिता और भाभी को कैंची से पेट फाड़ा, पिता की मौत भाभी गंभीर

गोहलपुर थाना क्षेत्र में नृशंस वारदात, आरोपी गिरफ्तार

By: Lalit kostha

Published: 17 Nov 2020, 01:06 PM IST

जबलपुर। गोहलपुर थाना क्षेत्र में मकान का बंटवारा नहीं करने से नाराज बेटे ने पिता की कैंची घोंपकर हत्या कर दी। आरोपी ने बीच-बचाव के लिए आई भाभी पर कैंची से हमला किया। हमले गम्भीर रूप से घायल महिला की हालत भी नाजुक बनी हुई है। पुलिस ने आरोपी हत्यारे पुत्र को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार सूजीपुरा बधैया मोहल्ला निवासी 67 वर्षीय अठई लाल रिटायर्ड फैक्ट्री कर्मी थे। अपनी पत्नी, ज्येष्ठ पुत्र दिनेश, बहू शिखा और उनके बच्चों के साथ रहते थे। अलग घर में रह रहा छोटा बेटा मनीष कोष्टा सोमवार को पिता से सम्पत्ति के हिस्सा-बंटवारे करने की बात करने आया था।

घर में आते ही वह अपशब्द कहकर विवाद करने लगा। उसकी भाभी शिखा ने पिता के साथ अभद्रता पर नाराजगी जताई। तैश में आकर मनीष ने पास में रखी कैंची उठाकर भाभी पर हमला कर दिया। यह देख पिता अठई बीच-बचाव के लिए आए तो मनीष ने पिता पर भी कैंची से दनादन कई वार कर दिए। हमले में घायल पिता फर्श पर गिर गए। इस विवाद और शोर सुनकर आसपास के लोग आए। वे अठई लाल को लेकर अस्पताल गए। जहां जांच के बाद डॉक्टर ने अठई लाल को मृत घोषित कर दिया। घायल शिखा को अस्पताल में भर्ती किया है। आरोपी मनीष को पकडकऱ पुलिस के हवाले किया।

 

murder_02.jpg

वारदात के समय पत्नी, बड़ा बेटा गए थे बाहर
पुलिस के अनुसार मनीष सोमवार को जब पिता से मिलने के लिए आया था घर पर उसकी मां भागवती और बड़ा भाई दिनेश घर पर नहीं था। भाईदूज के चलते दिनेश अपनी मां को लेकर उनके मायके गया था। इस बीच हमले की सूचना पाकर दोनों रिश्तेदारी से घर लौटें। वहां का नजारा देखकर दोनों अवाक रह गए। छोटे बेटे की करतूत और पति को खोने के गम में भागवती का रो-रोकर बुरा हाल था।

 

murder_01.jpg

एम्बुलेंस में ही वृद्ध ने दम तोड़ा
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हमले में घायल होने के बाद वृद्ध का काफी रक्त बह गया था। घायल वृद्ध और महिला को लेकर स्थानीय लोग तुरंत दीक्षितपुरा स्थित एक निजी अस्पताल पहुंचे। वृद्ध की हालत गम्भीर होने पर उसे मेडिकल अस्पताल रेफर कर दिया गया। एंबुलेंस से मेडिकल अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में ही वृद्ध की मौत हो गई। महिला को निजी अस्पताल में प्रारंभिक उपचार दिया गया। लगातार हालत बिगडऩे पर कुछ देर बाद महिला को भी मेडिकल अस्पताल भेज दिया गया। जहां, डॉक्टर उपचार कर रहे है। पेट में हमले के कारण अंतडिय़ों को नुकसान पहुंचा है। हालत नाजुक बनी हुई है।

स्थानीय लोगों के अनुसार मनीष सिलाई का काम करता है। उसका विवाह वर्ष 2013 में हुआ। विवाह के 3-4 माह के बाद ही वह पिता के साथ मकान में हिस्सा को लेकर विवाद करता था। नाराज होकर घर से अलग पत्नी के साथ रहने के लिए शांति नगर चला गया था। मकान में हिस्सा मांगने के लिए वह रविवार को भी पिता से मिलने के लिए आया था। बंटवारे की बात पर कहासुनी के बाद लौट गया था। सोमवार को वह दोबारा आया था और संपत्ति का बंटवारा करने दबाव बना रहा था।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned