मास्साब अब पढ़ाएंगे नहीं तो वेतन नहीं बढ़ेगा

बोर्ड परीक्षा परिणाम सुधारने की जबलुपर में भी कवायद, मॉडल स्कूलों के साथ अन्य विद्यालयों पर भी फोकस

By: shyam bihari

Published: 21 Jan 2021, 09:16 PM IST

जबलपुर। स्कूल शिक्षा विभाग ने बोर्ड परीक्षा के नतीजे सुधारने के लिए जबलपुर जिले के मॉडल स्कूल सहित अन्य स्कूलों के लिए कक्षावार अंकों का निर्धारण किया है। निर्धारित लक्ष्य पूरा नहीं करने पर शिक्षकों की वेतनवृद्धि रोकी जाएगी। लक्ष्य से 40 फीसदी कम परीक्षा परिणाम आने पर विभागीय जांच के साथ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी होगी। स्कूल शिक्षा विभाग ने कक्षावार लक्ष्य निर्धारित किया है, जो किसी भी हालत में गत वर्ष के राज्य स्तरीय औसत परीक्षा परिणाम से कम नहीं होना चाहिए। जानकारी के अनुसार 9वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम 59 प्रतिशत, 10वीं कक्षा का 64 प्रतिशत, 11वीं कक्षा का 81 प्रतिशत और 12वीं कक्षा का 73 फीसदी होना चाहिए। यदि किसी कक्षा का गत वर्ष का परीक्षा परिणाम निर्धारित औसत से अधिक है तो न्यूनतम पांच प्रतिशत वृद्धि करनी होगी।
मॉडल स्कूलों के लिए
श्रेणी : निर्धारित लक्ष्य
ए प्लस : 90 प्रतिशत इससे ज्यादा अंक
ए : 80 से 89 प्रतिशत अंक
बी : 70 से 79 प्रतिशत अंक
सी : 60 से 69 प्रतिशत अंक
अन्य स्कूलों के लिए
श्रेणी : निर्धारित लक्ष्य
ए प्लस : 80 प्रतिशत या इससे अअधिक अंक
ए : 60 से 79 प्रतिशत अंक
बी : 45 से 59 प्रतिशत अंक
सी : 33 से 44 प्रतिशत अंक
ये होगी कार्रवाई
- परीक्षा परिणाम लक्ष्य से 11 से 20 प्रतिशत कम होने पर एक वेतनवृद्धि रोकी जाएगी।
- 21 से 40 फीसदी कम होने पर दो वेतनवृद्धि रुकेगी।
- लक्ष्य से 40 प्रतिशत कम होने पर विभागीय जांच, अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned