इन हस्तियों के नाम से पूरे देश में फैल रही संस्कारधानी की यशकीर्ति

जबलपुर के रादुविवि ने दिए कई कुलपति और वैज्ञानिक, देश भर में है रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय का अलग मुकाम

 

By: shyam bihari

Updated: 24 Feb 2021, 09:19 PM IST

 

जबलपुर। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जबलपुर से होनहार छात्र ही नहीं, कुलपति, वैज्ञानिक और बड़े ओहदेदार भी निकलते हैं। यहां से निकले कई प्रोफेसर सेंट्रल यूनिवर्सिटी से लेकर स्टेट यूनिवर्सिटी तक में कुलपति से लेकर महत्वपूर्ण पदों पर शोभा बढ़ा रहे हैं। इस विश्वविद्यालय की प्रदेश में ही नहीं, बल्कि देशभर में नाम है। यहां ऐसे प्रोफेसरों की लम्बी सूची है, जो विभिन्न विश्वविद्यालयों, संस्थानों में पदस्थ हैं।
प्रोफेसर से बने वैज्ञानिक, अध्यक्ष
रादुविवि में साइंस के प्रोफेसर डॉ. एसपी कोष्टा ने कुलपति से लेकर वैज्ञानिक तक का सफर तय किया। वे इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन 'इसरोÓ में प्रमुख तकनीकी वैज्ञानिक के रूप में पदस्थ थे। भारत के पहले अंतरिक्ष प्रोजेक्ट आर्यभट्ट में योगदान के लिए उन्हें जाना जाता है। वे 1990 में कुलपति भी थे।
अध्यक्ष का पद सम्भाल रहे
रादुविवि में प्रोफेसर रह चुके डॉ. पीके जोशी संघ लोक सेवा आयोग नई दिल्ली में अध्यक्ष हैं। मध्य प्रदेश संघ लोक सेवा आयोग इंदौर में अध्यक्ष रह चुके हैं। लोक सेवा आयोग छत्तीसगढ़ में भी सेवाएं दी हैं।
प्रोफेसर से लेकर बोर्ड अध्यक्षतक
विवि में बायासाइंस विभाग में प्रोफेसर रह चुके प्रो. एसपी गौतम मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष, अध्यक्ष केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड नईदिल्ली एवं मप्र लोक सेवा आयोग इंदौर में भी कार्यवाहक अध्यक्ष रह चुके हैं।
सम्भाल रही हैं सेंट्रल यूनिवर्सिटी की कमान
रादुविवि में प्रोफेसर रह चुकीं अंजली गुप्ता गुरु घासीदास विश्वविद्यालय सेंट्रल यूनिवर्सिटी बिलासपुर में करीब चार साल से कुलपति हैं।
तीसरी बार वीसी
रादुविवि में अर्थशास्त्र विभाग में वरिष्ठ आचार्य के पद पदस्थ डॉ. एडीएन वाजपेयी को हाल ही में अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी बिलासपुर में कुलपति नियुक्त किया गया है। इसके पूर्व वे अवधेश प्रताप सिंह विवि रीवा में कुलपति थे। हिमाचल प्रदेश विवि में भी पूर्व कुलपति रह चुके हैं।
विक्रम विवि की सम्भाल रहे कमान
रादुविवि में प्रोफेसर रह चुके डॉ. अखिलेश पांडे, वर्तमान में विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन में कुलपति हैं। मप्र निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग अध्यक्ष के रूप में भी सेवाएं दे चुके हैं।
हिन्दी विवि की मिली बागडोर
रादुविवि में अकादमिक एवं प्रशासनिक पदों पर रहे आचार्य रामदेव भारद्वाज वर्तमान में अटल बिहारी वाजपेयी हिन्दी विश्वविद्यालय भोपाल में कुलपति हैं। इसके पहले उन्होंने भोज मुक्त विवि में निदेशक के पद का भी दायित्व का निर्वहन किया।

Show More
shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned