महाराजपुर के रहवासियों के लिए खुशखबरी, दशकों पुरानी समस्या से मिल गई परमानेंट निजात

महाराजपुर के रहवासियों के लिए खुशखबरी, दशकों पुरानी समस्या से मिल गई परमानेंट निजात

 

By: Lalit kostha

Updated: 07 Sep 2020, 11:53 AM IST

जबलपुर। जबलपुर-कटनी मार्ग पर महाराजपुर में डेढ़ दशक से होने वाले जलभराव से अब क्षेत्र के लोगों को राहत मिलेगी। आसपास की 15 से ज्यादा कॉलोनियों को जलभराव से राहत दिलाने के लिए सडक़ के दोनों ओर एक किमी लम्बा ड्रेनेज सिस्टम विकसित किया गया है। बरसाती पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं होने से यहां बिलपुरा से लेकर रिछाई तक का पानी भरता था।

महाराजपुर में भरता था बिलपुरा, रिछाई तक का बरसाती पानी
9.30 घंटे डायवर्ट रहा मुख्य मार्ग, 1 किमी डे्रनेज लाइन बिछाई
15 कॉलोनियों के लोगों को जलभराव से मिलेगी राहत

पानी की निकासी होने में चार-पांच दिन लग जाते थे। खेतों से होकर उर्दना नाले में पानी की निकासी होती थी। ड्रेनेज सिस्टम विकसित होने से बारिश के पानी की निकासी करौंदा नाला में हो सकेगी। ड्रेनेज सिस्टम विकसित करने के लिए सुबह 9 बजे से शाम 6.30 बजे तक करीब 9.30 घंटे तक अधारताल-कटनी मार्ग को हाउसिंग बोर्ड से होकर डायवर्ट किया गया था। देर शाम काम पूरा होने पर मार्ग को आवाजाही के लिए खोल दिया गया। इस दौरान स्वास्थ्य अधिकारी भूपेंद्र सिंह, सम्भागीय अधिकारी संतोष अग्रवाल, इंजी. आरएन सराफ, सीएसआई धर्मेंद्र राज और उनकी टीम उपस्थित थी।

डेढ़ दशक से थी समस्या
हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के ड्रेनेज के मुख्य चैम्बर को सडक़ के किनारे छोड़ दिया गया था। मुख्य नाले से मिलान नहीं होने से डेढ़ दशक से महाराजपुर, मैत्री नगर, पटेल नगर, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, जगदम्बा आवास, ऋषि नगर, साईं कॉलोनी, गौतम नगर, कृष्णा कॉलोनी, सरकारी बस्ती, चौधरी मोहल्ला, शिव शक्ति कॉलोनी, शंकर टोला में बरसाती पानी भरता था।

ये काम हुए
325 पाइप बिछाए
200 पाइप 1800 एमएम के
50 पाइप 2200 एमएम के
75 पाइप 1200 एमएम के

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned