नुकसान के खतरे से क्यों डर गई इतनी पुरानी-इतनी बड़ी पार्टी

जबलपुर में कांग्रेस के स्थापना दिवस पर आया सुझाव-जल्द तय हो महापौर प्रत्याशी का नाम

By: shyam bihari

Published: 29 Dec 2020, 07:30 PM IST

जबलपुर। पूरे देश के साथ जबलपुर शहर में भी सोमवार को कांग्रेस की स्थानीय इकाई ने 136वां स्थापना दिवस मनाया। कहने को तो यह स्थापना दिवस का आयोजन था। लेकिन, इसमें निकाय चुनावों को लेकर ज्यादा चर्चा हुई। इसमें कांग्रेसियों ने कहा कि निगम चुनाव को ध्यान में रखकर महापौर पद के प्रत्याशी के नाम की घोषणा जल्द होनी चाहिए। इस मामले में किसी प्रकार की देरी नुकसानदायक साबित होगी। भाजपा नेताओं ने चुटकी ली है कि आखिर कांग्रेस को महापौर पद के प्रत्याशी के नाम को लेकर इतनी हड़बड़ी क्यों है। आखिर अभी तक चुनाव की तारीख भी तो घोषित नहीं हुई है।

फिलहाल कांग्रेस अपनी तैयारी में लग गई है। स्थापना दिवस कार्यक्रम में भोपाल में हुई प्रदेश के जिला अध्यक्षों की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के द्वारा दिए गए निर्देशों की जानकारी दी गई। शहर कांग्रेस अध्यक्ष यादव ने प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ का आभार जताते हुए कहा कि वार्ड पार्षद प्रत्याशी का चयन पहले दिल्ली या भोपाल में होता था, वह अब जिला स्तर पर बनी कमेटी करेगी। प्रथम सत्र का संचालन कर मतीन अंसारी ने कार्यकर्ताओं को अपनी बात रखने का अवसर दिया। दूसरे सत्र में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मदन तिवारी, कौशल्या गोटिया, आलोक मिश्रा, नन्हेलाल धुर्वे,रेखा जैन, मुकेश राठौर, शैलेश राठौर, शिव कुमार चौबे, आजम खान, जगत मणि चतुर्वेदी, राजेंद्र मिश्रा, नेम सिंह, राजेश साहू, मनोज नामदेव, बृजेश दुबे, सुंदर यादव ने अपनी बात रखी। सभी ने कहा कि कार्यकर्ता संगठित होकर काम करेंगे। तय किया गया कि नगर निगम चुनाव में सभी वार्ड में एक-एक अधिवक्ताओं को नियुक्त किया जाएगा। बताया गया कि महापौर चुनाव क्षेत्र के लिए एक वार रूम भी बनाने का निर्देश राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा ने दिया है।

BJP Congress
Show More
shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned